19.4 C
New York
Thursday, June 13, 2024

Buy now

यूपी सरकार के मंत्री ने मद रसे को लेकर कही ये बात…..

साल 2022 में विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election) होने हैं। विधानसभा चुनाव को लेकर अलग-अलग पार्टी के नेता तैयारी कर रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ कुछ पार्टी के नेता अपने बयानों को लेकर चर्चा में आने की कोशिश करते हैं। हाल ही में उत्तर प्रदेश के एक मंत्री ने मद रसे को लेकर बयान दिया है। इस बयान की खूब चर्चाएं हो रही है। वहीं दूसरी तरफ कुछ लोग मंत्री के द्वारा बयान देने के बाद ही सवाल करते नजर आ रहे हैं। इस खबर के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि आखिर उत्तर प्रदेश के राज्यमंत्री ठाकुर रघुराज (Raghuraj Singh) ने अपने बयान में क्या कहा है। आइए आपको पूरी खबर विस्तार से बताते हैं?

कौन है ठाकुर रघुराज सिंह

आपको बता दें कि ठाकुर रघुराज सिंह (Raghuraj Singh) उत्तर प्रदेश के श्रम और सेवायोजन राज्य मंत्री है। रघुराज सिंह समय-समय पर मु स्लिमों को लेकर बयान देते रहते हैं। इस बार उन्होंने मद रसे को लेकर बयान दिया है। जैसा कि आपको पता है कि देश भर में अब तो मद रसे देखने को मिल जाएंगे। मद रसे में एक समुदाय के लोग शिक्षा प्राप्त करने जाते हैं। मदरसे में इ स्लामिक शिक्षा दी जाती है। यही वजह है कि रघुराज सिंह समय-समय पर मद रसों को लेकर भी बयान देते रहते हैं।

भगवान ने अवसर दिया तो कर दूंगा सभी मद रसे बं द

उत्तर प्रदेश के मंत्री ने कहा है कि अगर मुझे भगवान ने अवसर दिया तो मैं राज्य के सभी मद रसों को बं द कर दूंगा। सिर्फ इतना ही नहीं मद रसे में हो रही पढ़ाई लिखाई को लेकर भी उन्होंने सवाल किया है। रघुराज सिंह ने कहा है कि वे लोग केवल एक ही तरह की शिक्षा देते हैं। यही वजह है कि मदरसों से ही बुरहान वानी (Burhan Wani) जैसे लोग बाहर आते हैं। उन्होंने कहा है कि जब तक देश में मद रसा बं द नहीं होगा तब तक हमारे देश में अस्थिरता आती रहेगी।

Also Read:- नवाब मलिक को लेकर कोर्ट ने कही ये बात…

250 से हुआ 22000 मद रसों की संख्या

उन्होंने कहा कि एक समय में उत्तर प्रदेश में मात्र 250 मद रसों की संख्या थी लेकिन वही आज के समय में देखा जाए तो यह 22000 हो गया है। उन्होंने कहा कि मन्नान वाणी कश्मीर के मदरसों से शिक्षा प्राप्त किया था। अलीगढ़ मु स्लिम यूनिवर्सिटी (Aligarh Muslim University) को लेकर भी उन्होंने कई बातें कही है। उन्होंने कहा है कि केरल में जल्दी ही राष्ट्रपति शासन लागू कर देना चाहिए। क्योंकि वहां की सरकार केरल के लोगों के साथ अच्छा नहीं कर रही है।

Related Articles

Stay Connected

51,400FansLike
1,391FollowersFollow
23,100SubscribersSubscribe

Latest Articles