24.6 C
New York
Tuesday, July 23, 2024

Buy now

Prashant Kishor की भविष्यवाणी से राजनीती गलियारों में मच गई हलचल!

Prashant Kishor prediction: चुनावी रणनीतिकार से नेता बने प्रशांत किशोर ने आगामी 2024 लोकसभा चुनावों को लेकर अपनी भविष्यवाणी प्रस्तुत की है।

लगभग पिछले दो साल से बिहार के गांवों में जनसंपर्क कर रहे किशोर का मानना है कि विपक्ष की स्थिति में कोई बड़ा बदलाव नहीं आएगा और भारतीय (Prashant Kishor prediction) जनता पार्टी (बीजेपी) की सीटों में भी ज्यादा गिरावट नहीं दिख रही है।

आइए, जानते हैं कि उन्होंने अपनी भविष्यवाणी में क्या कुछ कहा है और किन तर्कों के आधार पर उन्होंने ये बातें कही हैं।

अरविंद केजरीवाल की रिहाई और उसका प्रभाव

प्रशांत किशोर ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की रिहाई और उनके चुनाव प्रचार का विश्लेषण करते हुए कहा है,

कि इससे भारतीय जनता पार्टी को कोई (Prashant Kishor prediction) नुकसान नहीं होगा।

उन्होंने कहा, “आप संयोजक के बाहर आने से उनके गठबंधन के साथ कांग्रेस को नुकसान होने वाला है।”

ये भी देखें:-

ऐसा क्या है जो पुरुष एक बार करता है और महिला बार-बार करती है?

Prashant Kishor prediction: पंजाब और दिल्ली पर प्रभाव

किशोर ने बताया कि आम आदमी पार्टी (आप) पूरे भारत में नहीं,

बल्कि केवल 20-22 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। इनमें से 14 सीटें पंजाब में और 4 सीटें दिल्ली में हैं।

कुछ सीटों पर गुजरात और गोवा में भी चुनाव लड़ रही है।

उन्होंने कहा, “इन 22 में से 14 सीटें पंजाब में हैं, जहां सीधा मुकाबला आप और कांग्रेस के बीच है।

अगर पंजाब में आप को फायदा होता है तो यह कांग्रेस के लिए नुकसानदायक होगा।”

कार्यकर्ताओं का मनोबल

प्रशांत किशोर ने आगे कहा,

“अगर किसी पार्टी का प्रमुख नेता सामने आता है तो इससे पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं का मनोबल बढ़ेगा।”

उन्होंने स्पष्ट किया कि अरविंद केजरीवाल का प्रचार केवल दिल्ली और पंजाब में ही प्रभावी रहेगा।

तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और ओडिशा में (Prashant Kishor prediction) केजरीवाल के प्रचार से मतदान में कोई विशेष बदलाव नहीं आएगा।

ये भी देखें:-

इस गायिका का सनसनीखेज खुलासा, शाहरुख खान और करण जौहर के बीच ‘समलैंगिक संबंध’!

Prashant Kishor prediction:बीजेपी और पीएम मोदी की स्थिति

2025 में बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटे प्रशांत किशोर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लगातार तीसरी जीत की भविष्यवाणी की है।

उन्होंने कहा, “भाजपा को पूर्व और दक्षिण में सीटें मिल रही हैं।

पश्चिम बंगाल, ओडिशा और तेलंगाना में भगवा पार्टी की सीटें बढ़ेंगी।

उत्तर और पश्चिम में भाजपा की सीटों में कोई बड़ी गिरावट नहीं दिख रही है।”

Prashant Kishor prediction:पूर्व और दक्षिण में बढ़त

किशोर ने कहा कि भाजपा पूर्व और दक्षिण भारत में मजबूत होती जा रही है।

विशेष रूप से पश्चिम बंगाल, ओडिशा और तेलंगाना में बीजेपी की सीटें बढ़ेंगी।

उत्तर और पश्चिम में स्थिरता

उत्तर और पश्चिम भारत में बीजेपी की सीटों में कोई बड़ी गिरावट नहीं दिख रही है।

किशोर (Prashant Kishor prediction) ने कहा कि पीएम मोदी के सामने इस चुनाव में कोई बड़ी चुनौती नहीं है ,

और लोकसभा में भाजपा की मौजूदा संख्या करीब 300 बरकरार रहने की पूरी संभावना है।

ये भी देखें:-

धूप से चलेगा सोलर AC, बिजली बिल की टेंशन खत्म, जानिए कीमत!

कांग्रेस और आप का संबंध

कांग्रेस और आम आदमी पार्टी (आप) के संबंध पर चर्चा करते हुए किशोर ने कहा कि,

दोनों दल कई मुद्दों पर साथ हैं लेकिन पंजाब में कांग्रेस और आप के नेता एक-दूसरे पर निशाना साध रहे हैं।

दिल्ली में दोनों पार्टियां मिलकर चुनाव लड़ रही हैं, जहां 7 लोकसभा सीटें हैं।

स्वाति मालीवाल वाले मुद्दे पर भी कांग्रेस के तरफ से अरविंद केजरीवाल के विरोध में कोई बयान नहीं दिया गया है।

प्रशांत किशोर की रणनीति और भविष्यवाणियां

प्रशांत किशोर ने अपनी रणनीति और अनुभव के आधार पर कई भविष्यवाणियां की हैं।

उनका मानना है कि भाजपा को पूर्व और दक्षिण में बढ़त मिलेगी और उत्तर व पश्चिम में सीटों में कोई बड़ी गिरावट नहीं होगी।

विपक्ष की स्थिति

किशोर का मानना है कि विपक्ष की स्थिति कमोबेश वही रहेगी।

अरविंद केजरीवाल की रिहाई और उनका प्रचार कांग्रेस के लिए नुकसानदायक होगा।

ये भी देखें:-

आप अपने Credit Card से अपने बैंक अकाउंट में भी पैसे कर सकते हैं ट्रान्सफर! जानें कैसे

चुनावी रणनीति

चुनावी मैनेजमेंट में माहिर किशोर ने बताया कि जिन 22 सीटों पर आप चुनाव लड़ रही है,

उनमें से 13 सीटों पर उसकी सीधी लड़ाई कांग्रेस से है। पंजाब में बीजेपी भी चुनाव लड़ रही है।

2019 में, भाजपा ने पंजाब में दो सीटें गुरदासपुर और होशियारपुर जीतीं। इस बार बीजेपी राज्य की सभी सीटों पर चुनाव लड़ रही है।

प्रचार का प्रभाव

किशोर ने कहा कि अगर केजरीवाल पंजाब में प्रचार करने आयेंगे तो इसका सीधा फायदा आप को होगा।

इससे पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं का मनोबल बढ़ेगा।

ये भी देखें:- “का बा” वाली नेहा सिंह राठौर ने कन्हैया के समर्थन में किया प्रचार! देखें जनता ने कैसे लगाई लताड़!

Prashant Kishor prediction: निष्कर्ष

प्रशांत किशोर की भविष्यवाणी में कई महत्वपूर्ण बिंदु उभरकर सामने आए हैं।

उनकी दृष्टि में भाजपा की स्थिति मजबूत बनी रहेगी और विपक्ष की स्थिति में कोई बड़ा बदलाव नहीं होगा।

अरविंद केजरीवाल की रिहाई और उनके चुनाव प्रचार का असर केवल दिल्ली और पंजाब में दिखेगा।

भाजपा पूर्व और दक्षिण में बढ़त हासिल करेगी और उत्तर व पश्चिम में स्थिरता बनाए रखेगी।

प्रशांत किशोर की ये भविष्यवाणियां आगामी 2024 के लोकसभा चुनावों के राजनीतिक परिदृश्य को स्पष्ट करने में मदद करती हैं।

उनके तर्क और विश्लेषण दर्शाते हैं कि भारतीय राजनीति में उनके अनुभव और समझ का कोई सानी नहीं है।

इस प्रकार, 2024 के लोकसभा चुनावों में भाजपा की स्थिति मजबूत बनी रहेगी,

और विपक्ष की चुनौतियां जारी रहेंगी। प्रशांत किशोर की ये भविष्यवाणियां राजनीति के जानकारों और आम जनता के लिए समान रूप से महत्वपूर्ण हैं।

इन सभी तथ्यों और विश्लेषणों के आधार पर यह कहना उचित होगा कि प्रशांत किशोर की भविष्यवाणी ने 2024 के लोकसभा चुनावों के संभावित परिणामों को स्पष्ट रूप से प्रस्तुत किया है।

उनके तर्क और दृष्टिकोण ने राजनीति के विभिन्न पहलुओं को उजागर किया है, जो आने वाले समय में राजनीतिक घटनाक्रम को प्रभावित कर सकते हैं।

ये भी देखें:-

Bihar sharabbandi: बिहार में 8 वर्षों से है शराबबंदी, 60 घंटे में ही हटाने की तैयारी !

Prashant Kishor की भविष्यवाणी से राजनीती गलियारों में मच गई हलचल!
Prashant Kishor की भविष्यवाणी से राजनीती गलियारों में मच गई हलचल!

Related Articles

Stay Connected

51,400FansLike
1,391FollowersFollow
23,100SubscribersSubscribe

Latest Articles