सूखी खांसी से हैं परेशान, तो कीजिये इन आयुर्वेदिक नुस्खों का उपचार….

बदलता मौसम अपने साथ कई तरह की बीमारियां सौगात में लाता है. जैसे-जैसे मौसम बदलता है वैसे-वैसे वायरल फीवर, खांसी-जुकाम, सिर दर्द की समस्या जोर पकड़ लेती है. जिन लोगों की इम्यूनिटी कमजोर है उन्हें यह परेशानी ज्यादा होती है. दवा करने पर सर्दी और बुखार से निजात मिल जाती है, लेकिन खांसी कई दिनों तक पीछा नहीं छोड़ती.

सूखी खांसी से ज्यादातर लोग परेशान रहते हैं, जिसकी वजह से खांसते-खांसते गला सूख जाता है और सीने में दर्द होने लगता है. कई बार खांसते-खांसते गले में घाव तक हो जाता है. आप भी बदलते मौसम में होने वाली सूखी खांसी से परेशान हैं तो हम आपको कुछ आयुर्वेदिक असरदार नुस्खों के बारे में बताते हैं जिन्हें अपना कर आप जल्द ही सूखी खांसी से निजात पा सकते है.

अनार के छिलके और शहद का करें सेवन

सूखी खांसी से परेशान हैं तो अनार के छिलके का प्रयोग शहद के साथ करें. सबसे पहले अनार के छिलकों को दो-तीन दिन तक धूप में सूखाएं. जब छिलकों की सारी नमी चली जाए तो इसे शहद से भरे जार में डाल दें. जब आपको सूखी खांसी सताए तब शहद में भीगे हुए अनार के छिलके को मुंह में रखकर चूसें. याद रखें कि छिलके को निगले नहीं. आपको खांसी से जल्द राहत मिलेगी.

कैंडीज से करें सूखी खांसी का इलाज

सूखी खांसी अगर आपको बार-बार परेशान कर रही है तो आप घर में आयुर्वेदिक कैंडी बनाएं और उसका सेवन करें. कैंडी बनाने के लिए अदरक, सौंफ, पुदीने के ताजे पत्ते लें और उन्हें बारीक पीसकर पेस्ट बना लें. इसके अलावा थोड़ा सा मिश्री का पाउडर बना लें. इस पेस्ट की छोटी-छोटी गोलियां बना लें और इसमें ऊपर से मिश्री का पाउडर कोर्ट करें. इन गोलियों को थोड़ी देर सूखने दें और किसी जार में स्टोर करें. जब भी आपको खांसी परेशान करें तो इन गोलियों का सेवन करें.