Ramayana Circuit Train के वेटरों की बदली ड्रेस ! जाने वजह…

भारत में कही भी आना जाना हो तो ट्रैन (Train) सबसे अच्छा माध्यम है। भारत सरकार लगातार ट्रैन में सुविधाओं को बढ़ा रही है। एक तरफ रेलवे में सरकार लगातार सुधार करने में लगी हुई है। सफर को जल्दी पूरा करने के लिए सरकार बु लेट ट्रैन (Bullet Train) भी बना रही है। वहीं दूसरी तरफ रेलवे (Indian Railway) ने रेल के वेटर की ड्रेस को साधु के कपड़ो जैसा दिखाया। इसको लेकर साधु- समाज रेलवे से सवाल पूछ रहा है। उज्जैन के साधु-संतों ने रामायण सर्किट स्पेशल ट्रेन (Ramayana Circuit Train) को लेकर सवाल उठाया और कहा कि सर्विस दे रहे वेटरो की ड्रेस साधुओं के कपड़ों की तरह ना हो। आइये आपको पूरी खबर विस्तार से बताते है।

साधुओं के कपड़ों में वेटर उठा रहे बर्तन

अयोध्या रामेश्वर एक्सप्रेस में भगवा ड्रेस पहने वेटर बर्तन उठा रहे है। ये बात साधु संतों को पसंद ही नहीं आई। इसके लिए साधुओं ने रेल मंत्री को पत्र लिखा। जिसमे कहा कि अगर सरकार ड्रेस नहीं बदलेगी तो ट्रैन को रो क लेंगे। ट्रेन रोकने की खबर को सुनकर आईआरसीटी ने रामायण एक्सप्रेस ट्रेन में काम करने वाले वेटरों की ड्रेस को बदल दिया। आईआरसीटी ने ट्वीट कर जानकारी  दी कि ट्रेन के स्टाफ की ड्रेस को पेशेवर यूनिफॉर्म में बदल दिया गया है।

बदली जाए वेटरों की ड्रेस- साधु समाज

सोशल मीडिया पर जारी वीडियो में ट्रेन के वेटर साधु-संतों के भगवा कपड़े धोती, पगड़ी और रुद्राक्ष की माला पहनकर खाने के बर्तन उठाते नजर आ रहे थे। इससे साधुओं की भावनाओं को ठे स पहुंचा है। आपको बता दे कि उज्जैन के अखाड़ा परिषद के पूर्व महामंत्री परमहंस अवैध पुरी महाराज ने कहा कि यह अप मान है। जल्दी वेटर्स की ड्रेस को बदला जाए। नहीं तो 12 दिसंबर को निकलने वाली अगली ट्रेन को संत समाज बीच मे ही रो क लेंगे।  ट्रेन के सामने हजारों हिंदुओं को लेकर प्र दर्शन किया जाएगा।

Also Read:- POK जल्द बनेगा भारत का भाग ! केन्द्रीय मंत्री ने बताया मोदी सरकार का अगला प्लान !

IRCTC ने लिया ये निर्णय

जिसके बाद IRCTC ने तुरंत ड्रेस चेंज कर दी। रेलवे ने ये निर्णय लेकर लोगों की भावनाओ का सम्मान किया है। लोगों ने भी रेलवे के इस फैसले की सराहना की है । यह ट्रैन 17 दिन की यात्र में पर्यटकों को भगवान राम से जुड़े सभी महत्वपूर्ण धर्मिक स्थलों का दर्शन कराती है। यह ट्रैन लगभग 7500 km की यात्रा करती है। अगर लोगों को भगवान राम के दर्शन करने है, तो ये ट्रैन आपके उस सपने को पूरा करेगी।