11.1 C
New York
Sunday, April 21, 2024

Buy now

पंजाब की राजनीती में आया नया मोड़, अब इस किसान नेता ने किया नई पार्टी बनाने का ऐलान….

मोदी सरकार द्वारा लाये गए तीन कृषि कानूनों (Farm Bills) को लेकर किसान समर्थन में नहीं थे। पिछले एक साल से किसान (Farmers) कृषि कानूनों की वापसी को लेकर दिल्ली की सीमाओं (Delhi’s Borders) पर बैठे थे। सरकार ने किसानों को समझाया लेकिन किसान कृषि कानूनों की वापसी से कम कुछ भी नहीं चाहते थे। आखिरकार मोदी सरकार ने कृषि कानूनों की वापसी का ऐलान कर दिया है। शुरू हो रहे संसद सत्र में कृषि कानूनों की वापसी हो जाएगी। सबको लग रहा था कि अब सब कुछ ठीक हो जायेगा लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। अब राजनीती और तेज हो गई है। किसान नेता गुरनाम सिंह चढ़ूनी (Gurnam Singh Chaduni) ने कुछ ऐसा कह दिया है। जिसकी खूब चर्चा हो रही है। आइए आपको पूरी ख़बर विस्तार से बताते है।

राकेश टिकैत और गुरनाम सिंह चढ़ूनी के बीच सब कुछ ठीक नहीं

आज किसान आं दोलन से राजनीति ने एक नया मोड़ लिया है। अब किसानों में फू ट पड़ गई है। किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait)और गुरनाम सिंह चढ़ूनी (Gurnam Singh Chaduni) के बीच सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। दोनों ही किसान नेता बनकर अपनी अपनी राजनीती करने में लगे हुए है। दोनों ही पंजाब चुनाव (Punjab Assembly Election) में अपनी किस्मत आजमाना चाहते है। राकेश टिकैत भी सीट के चक्कर में पंजाब में हाथ पांव फेंक रहे ताकि उन्हें कांग्रेस (Congress) या आम आदमी पार्टी (AAP)से विधानसभा सीट मिल सके।

गुरनाम सिंह चढ़ूनी पंजाब चुनाव में लेंगे भाग

किसान नेता गुरनाम सिंह चढ़ूनी भी पंजाब चुनाव में खुद को चमकाने में लगे हुए है। गुरनाम सिंह चढ़ूनी किसी पार्टी के टिकट से चुनाव में नहीं उतरने वाली है। उन्होंने अपनी अलग पार्टी बनाने का ऐलान किया है। इतना ही नहीं उन्होंने यह भी कह दिया कि पंजाब में विधानसभा चुनाव हो जाने के बाद वह हरियाणा में भी चुनाव में भाग लेंगे।

Also Read:- किसान आं दोलन की सालगिरह के जश्न में दिखा भिंडरावाले का बैनर ! अब उठ रहे सवाल…

गुरनाम सिंह चढ़ूनी ने नई पार्टी बनाने का किया ऐलान

गुरनाम सिंह चढ़ूनी ने संविधान दिवस और सर छोटू राम की जयंती के अवसर पर अंबाला शहर में आयोजित एक कार्यक्रम में नई पार्टी बनाने का ऐलान किया है। गुरनाम सिंह चढ़ूनी ने कहा कि पंजाब में उसका राज होना चाहिए जिसके पास वोट है ना कि उसका जिसके पास नोट है। इस दौरान उन्होंने बोलते हुए कहा कि नोटों से नहीं वोटों से राज किया जाना चाहिए। जब वोट से कोई बनेगा तभी तो वोट वालों की सुनेगा। गुरनाम सिंह ने कहा है कि वो पंजाब से चुनाव में नहीं लड़ें गे आम लोगों को चुनाव ल ड़वाएंगे।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles