रिलायंस ने शुरू किया सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान, 880 शहरों में लाखों लोगों को लगेगी वैक्सीन

पूरे देश में कोविड के फैलाव पर रोकथाम के लिए टीकाकरण अभियान को बहुत तेज कर दिया गया है। 1 मई से शुरू हुए टीकाकरण के चौथे चरण में 18 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोगों को भी टीका लगाया जा रहा है। वहीं, रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड (RIL) ने देश को कोविड से निजात दिलाने के लिए सबसे बड़े टीकाकरण अभियान की शुरुआत कर दी है। इसके अंतर्गत कंपनी ने अपने सभी कर्मचारियों, सहयोगियों, भागीदारों (जैसे बीपी, गूगल आदि) और उनके परिवार के सभी सदस्यों का टीकाकरण करने के लिए एक विस्तारपूर्वक योजना बनाई है।

किन लोगों को होगा लाभ

कंपनी के इस कदम से प्रदेश को टीकाकरण अभियान में काफी सहायता मिलेगी। RIL की इस योजना के अंतर्गत 880 शहरों में 13 लाख से ज्यादा लोगों को फायदा होगा। इस योजना में परिवार के सभी लोग, मतलब पति-पत्नी, माता-पिता, दादा-दादी, सास-ससुर, पात्र बच्चे और भाई-बहन को शामिल किया जा रहा है। कंपनी का यह अभियान सिर्फ अपने कर्मचारियों तक ही सीमित नहीं है, बल्कि रिलायंस ने रिटायर कर्मियों और उनके परिवार के सदस्यों के लिए भी इस टीकाकरण कार्यक्रम का विस्तार किया है।

Also Read:- राजस्थान के इन 8 राजघरानों ने आज भी अपने परिवारों की शान और भव्यवता को बरकरार रखा है….

कैसे कर सकते हैं पंजीकरण

सभी पात्र कर्मचारियों और उनके परिवार के सदस्यों को CoWin ऐप पर पंजीकरण करना होगा, जिसके बाद वे अपने चुने हुए स्थल के लिए RIL के ऑनलाइन हेल्थकेयर प्लेटफॉर्म जियो हेल्थहब पर स्लॉट बुक कर सकते हैं।

आखिर लॉकडाउन कब तक

लॉकडाउन करने का एक ही मक़सद होता है कि लोग एक-दूसरे के संपर्क में ना आएं। लेकिन भारत में इसे पूरी तरह से लागू कर पाना संभव नहीं है। हम देख चुके हैं कि जनता कर्फ्यू के दौरान भी लोग शाम के वक़्त रैलियां निकालते हुए सड़कों पर आ गए थे। बस उम्मीद की जा सकती है कि इस बार ये 21 दिन का किया गया है तो लोगों को बीमारी कितनी ख़तरनाक है, इसका अंदाज़ा लग गया होगा।”