Google दे रहा 7 करोड़ जीतने का मौका, आपको निकालनी है सिर्फ एक गलती, जानें कैसे

इंटरनेट की दुनिया में कमाई के अवसर कभी कम नहीं होते हैं। रोज नए -नए अवसर सामने आते रहते है।  इस बार ऐसा ही एक प्रस्ताव गूगल की ओर से रखा गया है। इस प्रस्ताव में गूगल(Google) ने हाल ही में एंड्राइड 12 को बीटा मोड में लॉन्च किया था। इसका मतलब कुछ सेलेक्टेड स्मार्टफोन्स में गूगल एंड्राइड 12 को ऑपरेट किया गया। इस मोड में बग्स(Bugs) और एरर(Error) मिलने की सम्भावना ज्यादा होती है।

बग्स को ढूँढना है

इसके चलते आपके स्मार्टफोन चलाने का एक्सपीरियंस बिगड़ सकता है या फिर यह आपके स्मार्टफोन के लिए भी हानिकारक हो सकता है। इससे आपका फ़ोन रिस्पांस देना बंद कर सकता है। अब गूगल एंड्राइड सिक्योरिटी रिवॉर्ड प्रोग्राम के तहत तकनीकी विशेषज्ञों को इस ओएस में खामी खोजने पर लगभग 7 करोड़ से ज्यादा राशि देने का एलान किया है।

गूगल का यह भी कहना है कि,”जो भी तकनिकी सिक्योरिटी रिसर्चर गूगल के बग बाउंटी के लिए इंटरेस्टेड है, उन्हें एंड्राइड 12 के दो बीटा वर्जन एंड्राइड 12 बीटा वर्जन 1 और एंड्राइड 12 बीटा वर्जन 1.1 को पिक्सेल डिवाइस के लिए बने इस ओएस बिल्ट का विश्लेषण करना होगा।

50 प्रतिशत का बोनस रिवॉर्ड भी मिल सकता है

गूगल ने एंड्राइड रिवॉर्ड ब्लॉग में कहा है कि, ”जो भी एंड्राइड 12 के दोनों बिल्ट में सिक्योरिटी फाल्ट को 18 मई से 18 जून तक खोजेगा, उसे 50 प्रतिशत का बोनस भी रिवॉर्ड अमाउंट के साथ दिया जायेगा। कंपनी का एंड्राइड सिक्योरिटी रिवॉर्ड प्रोग्राम एंड्राइड 12 के कोड को कवर करेगा जिससे यह बिल्ट पिक्सेल डिवाइस पर रन करता है और कंपनी का अन्य रिवॉर्ड प्रोग्राम इसके अंदर नहीं आते।

Also Read: – वैक्सीन लगवाने के डर से 200 लोग नदी में कूदे…

गूगल ने कुछ बग्स भी गिनाये है, जो इस रिवॉर्ड प्रोग्राम के तहत कवर्ड है, जैसे कि AOSP code, OEM code (लाइब्रेरीज और ड्राइवर्स), कर्नेल, सिक्योर कोड और ट्रस्ट जोन मॉड्यूल है। कंपनी के अनुसार कुछ और नॉन-एंड्राइड खामिया जो एंड्राइड सिक्योरिटी के लिए कमजोर है। उन्हें भी इस रिवॉर्ड प्रोग्राम के तहत लिया जा सकता है। गूगल ने इस बीटा वर्जन के लिए डिवाइस लिस्ट दी है वो इस प्रकार है-

>> Pixel 5
>> Pixel 4a
>> Pixel 4a 5G
>> Pixel 4
>> Pixel 4 XL
>> Pixel 3a
>> Pixel 3a XL
>> Pixel 3
>> Pixel 3 XL