बस जान ले ये बातें, वाहन चलाते समय पुलिस भी आपका कुछ बिगाड़ नहीं पाएगी….

अगर आप वाहन चलाते हैं, आपको भी लगता है कि पुलिस कर्मी बेवजह कहीं भी आपसे कागजात मांग लेते हैं, तो यह खबर आपके बेहद काम की है। इस खबर के माध्यम से हम आपको आपके मौलिक अधिकारों (Fundamental Rights) के बारे में जानकारी देने वाले हैं। साथ ही साथ हम आपको यह भी बताएंगे कि अगर आपसे कोई वाहन के कागजात मांगता है, तो आपको किस तरह से जवाब देना है। आपने कई बार देखा होगा कि ट्रैफिक पुलिस (Traffic Police) के अलावा खाकी वर्दी वाले पुलिस भी आप से वाहन के कागजात दिखाने के लिए कह देते हैं। आइए आपको पूरी खबर विस्तार से बताते हैं।

केवल ट्रैफिक पुलिस ही कर सकते हैं आपका चालान

आपको बता दें कि कई बार आप रास्ते में सफर कर रहे होते हैं लेकिन बीच में ही आपको कुछ ऐसे पुलिस वाले मिलते हैं। जो आप से वाहन के कागजात (Papers of  Vehicles) दिखाने के लिए कहते हैं। कई बार तो ऐसा भी होता है कि आपके पास वाहन के सभी कागजात होते हैं। इसके बावजूद भी वह लोग चालान के लिए कह देते हैं। आपको बताते चलें कि आपके वाहन का चालान केवल ट्रैफिक पुलिस (Traffic Police) ही कर सकती है। अगर कोई खाकी वर्दी में पुलिसकर्मी आपसे कहे कि आपका चालान होगा तो आप चालान करवाने से मना कर सकते हैं।

केवल कागजात ही दिखाएं

आपको बता दें कि अगर रास्ते में आपसे कोई खाकी वर्दी में पुलिसकर्मी कहे कि आप अपना कागजात और आप अपने वाहनों का कागजात दिखाए तो आप उन्हें बहुत ही सलीके से कागजात दिखा सकते हैं। क्योंकि वह लोग नॉर्मल जांच के लिए बैरिकेट लगाकर सड़क के बीच खड़े होते हैं। वहीं दूसरी तरफ अगर वह आपसे कहे कि आप के गाड़ी के कागजात कम है। तो आप उन्हें अन्य कागजात भी दिखा सकते हैं। दरअसल उन लोगों के पास ऊपर से वाहनों की जांच के लिए आर्डर होता है।

Also Read:- 70 साल पहले म र चुकी है ये महिला, पर लोगों को आज भी दे रही जीवन! जानें क्या है मामला..

ट्रैफिक पुलिस को देना होता है दोगुना चलाना

नए मोटर व्हीकल कानून (New Motor Vehicles Act)  के आने के बाद ही चालान की रकम में बदलाव देखने को मिला है। क्या आपको पता है कि नए मोटर व्हीकल कानून के आने के बाद से अब ट्रैफिक पुलिस (Traffic Police) अगर हेलमेट या फिर कोई कानून को तो ड़ता है। तो उनसे सरकार दोगुना चालान लेती है। अगर साफ शब्दों में कहें तो पुलिस के जवानों को अब दोगुना चालान देना होगा। क्योंकि जो लोग कानून के रखवाले हैं। अगर वह लोग ही कानून का पालन नहीं करेंगे तो आम इंसान उन्हें देखकर क्या सीख लेंगे।