क्या आपको पता है एक ट्रेन की कीमत कितनी होती है, नहीं न तो क्लिक करके जानें…

साथियों क्या आपको पता है कि एक ट्रेन का मूल्य कितना होता है? शायद ही आपको इस बात की जानकारी हो। क्योंकि ट्रेन की कीमत के बारे में अधिकतम लोग नहीं जानते। आप निश्चिंत रहिए आज आपको इस सवाल का जवाब मिल जायेगा। जनसंख्या के अनुसार भारत विश्व का दूसरा सबसे बड़ा देश है। इतनी जनसंख्या है तो जाहिर सी बात है की यातायात के लिए कोई न कोई साधन जरूर होना चाहिए। यातायात के लिए ट्रेन हमारे देश में बहुत ही अहम भूमिका अदा कर रही है। आपको बता दें कि भारत का रेलवे नेटवर्क दुनिया का सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है। यहां प्रतिदिन करोड़ों लोग ट्रेन में यात्रा करते हैं। किसी भी देश में यात्रा करने के लिए सबसे ज्यादा ट्रेन का इस्तेमाल होता है क्योंकि ट्रेन में कम खर्च लगता है और ज्यादा दूर तक कम समय में आसानी से अपने गंतव्य स्थान पर जा सकते हैं।

लगभग 13 लाख कर्मचारी इंडियन रेलवे में कार्यरत

वहीं दूसरी तरफ अगर हम रोजगार की बात करें तो इंडियन रेलवे में लाखों लोग काम कर रहे हैं। वर्तमान समय में लगभग 13 लाख से ज्यादा कर्मचारी इंडियन रेलवे में काम कर रहे हैं। धीरे-धीरे यह संख्या निरंतर बढ़ती ही जा रही है क्योंकि रेलवे लोगों की यात्रा को सुविधाजनक बनाने के लिए प्रतिवर्ष नई-नई नौकरियां बहाल करती रहती है।

Also Read:- कोविड में भी पीएम मोदी की प्रसिद्धि में कोई कमी नहीं, जो बाइडेन और बोरिस जॉनसन से निकले आगे…देखिए लिस्ट

केवल इंजन का मूल्य 20 करोड़ रुपए

चलिए अब हम आपको बताते हैं कि ट्रेन की कीमत कितनी होती है। जैसा कि हम लोग जानते हैं कि ट्रेन दो भागों में विभाजित होता है। पहला भाग को इंजन कहते हैं और दूसरा भाग वह डिब्बा जिसमें सवारी बैठती है । इंजन डिब्बे अथवा कोच को आगे की तरफ खींचने का काम करती है। कुछ रिपोर्ट्स की माने तो ट्रेन का इंजन बनाने का खर्च लगभग 20 करोड़ रुपए आता है। ट्रेन में कई कोच अथवा डिब्बे होते हैं। जिसमें से केवल एक कोच को बनाने में दो करोड़ रुपए का खर्च आता है।

एक ट्रेन को बनाने में 50 से 100 करोड़ का खर्च

एक्सप्रेस ट्रेन में अधिकतम 24 कोच होते हैं। इसके अनुसार देखा जाये तो 24 डिब्बों की कीमत 2 करोड़ प्रति कोच के हिसाब से 48 करोड़ होती है तो वही इंजन की कीमत 20 करोड़ है। इसको जोड़ दिया जाये तो एक्सप्रेस ट्रेन की कीमत 68 करोड़ रूपए हो जाती है। इस तरफ एक सामान्य या फिर एक्सप्रेस ट्रेन को बनाने का खर्च 50 करोड़ से लेकर 100 करोड़ के बीच आता है।