नक्सली हमला को लेकर अमित शाह एक्शन में,चुनावी दौरा रद्द कर पहुंचे दिल्ली….

रविवार को केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने एक बड़ा बयान देते हुए कहा है कि नक्सली हमलों में सुरक्षाकर्मियों की जान गई है ऐसी घटनाओं को बर्दाश्त बिल्कुल नहीं किया जाएगा उचित समय आने पर इन लोगों को मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा! वहीं दूसरी ओर छत्तीसगढ़ में नक्सल हमलों में हताहत हुए लोगों का पता लगाया जाना भी बाकी है और उनकी तलाश अभियान जारी है!

इस बीच अमित शाह ने कहा है कि देश को पूरा भरोसा देता हूं बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा नक्सली हमले के ऊपर नजर बनाए हुए गृहमंत्री असम से दिल्ली लौट रहे हैं! दिल्ली लौटते ही नक्सली हमले पर आला अधिकारियों के साथ देश के गृहमंत्री बैठक करने वाले हैं! गृह मंत्री अमित शाह की असम में धोरेलिया प्रस्तावित थी लेकिन नक्सली हमले के चलते दोनों रेलिया रद्द हो गई है!

बता दें कि अमित शाह नक्सलियों के साथ मुठभेड़ होने पर सुरक्षा बलों के 22 जवानों के शहीद होने के मद्देनजर रविवार को उनके असम में चुनाव प्रचार के लिए अपना दौरा बीच में ही छोड़कर दिल्ली लौट रहे हैं! गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने इस मांग ने बताया है कि अमित शाह राष्ट्रीय राजधानी लौट रहे हैं और छत्तीसगढ़ की स्थिति की समीक्षा करने के लिए मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक भी कर सकते हैं!

वहीं दूसरी ओर छत्तीसगढ़ में हुए नक्सली हमले पर गृह मंत्री का कहना है कि मैं जवानों को श्रद्धांजलि देता हूं और उनके परिवार को विश्वास दिलाता हूं कि जवानों ने देश के लिए अपना खून बहाया है उसको व्यर्थ नहीं जाने दिया जाएगा! नक्सलियों के खिलाफ मजबूती के साथ हमारी लड़ाई चलती ही रहेगी और हम इसे परिणाम तक लेकर जाएंगे!