Health Tips: गोद में Laptop लेकर करते हैं काम तो हो जाइये सावधान! शरीर बन सकता है बीमारियों का घर…

Health Tips: लैपटॉप हमारी ज़िन्दगी का एक अहम हिस्सा बन चूका है। आज के इस तकनीकी युग में कोई भी काम बिना फ़ोन या लैपटॉप के करना लगभग असंभव ही है। विश्व में कोरोना काल के समय से वर्क फ्रॉम होम होने लगा। हमारा देश भी इससे अछूता नहीं है। स्थिति सामान्य होने पर भी आज तक भी कई जगहों पर वर्क फ्रॉम होम चल रहे है। और घर से काम करने का मतलब पूरे दिन कंप्यूटर या लैपटॉप के साथ बैठे रहना। ऐसे में हम आपको बताएँगे की लम्बे समय तक लैपटॉप को गोद में लेकर बैठना कितना नुकसान पहुंचा सकता है।

Health Tips
शरीर पर होता है काफी नुकसान!

लोग अक्सर लैपटॉप के इस्तेमाल के वक्त पैरों को चिपका कर बैठते हैं जिससे लैपटॉप की रेडिएशन सीधे शरीर पर पड़ती है। जिस वजह से बॉडी में दर्द होने लगता है। साथ ही लैपटॉप को लगातार यूज करने से बचना चाहिए। इससे मसल्स में दर्द उठ सकता है। अगर लैपटॉप को अपनी गोद में रखकर काम करेंगे तो इससे आपको भारी सिर दर्द की समस्या भी हो सकती है। दरअसल, इस डिवाइस से निकलने वाली हीट लो फ्रीक्वेंसी रेडिएशन छोड़ते हैं और ब्लूटूथ कनेक्शन से ही रेडिएशन बाहर आती है। जो आपको बीमार कर सकती है।

Read More: Private Number मिलेगा सिर्फ इस एक ट्रिक से! कॉल रिसीव करने वाले को नहीं दिखेगा आपका Mobile Number…

Health Tips
Health Tips: महिलाओं से अधिक है पुरुषों को खतरा!

महिलाओं के बदले पुरुषों में लैपटॉप के हीट का ज़्यादा असर होता है। दरअसल, महिलाओं का यूट्रस शरीर के अंदर होता है और पुरुषों में टेस्टिकल शरीर के बाहरी हिस्से में होता है जिससे हीट रेडिएशन ज्यादा करीब रहती है। ज्यादा तापमान होने से पुरुषों की स्पर्म क्वालिटी कमजोर होने लगती है और इस वजह से फर्टिलिटी में समस्या आ सकती है। इसलिए पुरुषों जब भी लैपटॉप का इस्तेमाल करें, उसे अपनी गोद में न रखें।