Facebook Down: मार्क जुकरबर्ग को लगी ₹52 हज़ार करोड़ की चपत, अमीरों की लिस्ट में गिरे

दुनिया भर में सोमवार (अक्टूबर 4, 2021) शाम तकरीबन 9 बजे अचानक facebook, instagram और whatsapp की सेवाएँ ठप पड़ गईं। इससे आम लोगों को काफी परे शानी झेलनी पड़ी। लगभग 6 घंटे तक सर्वर डाउन रहने के बाद सेवाएँ बहाल हुईं। लेकिन ये कुछ घंटे मार्क जुकरबर्ग के लिए भारी साबित हुए और उन्हें काफी बड़ा नु कसान झेलना पड़ा है। फेसबुक के को-फाउंडर और सीईओ जुकरबर्ग के नेटवर्थ में 7 अरब डॉलर (करीब 52190 करोड़ रुपए) की गिरावट आ गई है। इसके कारण वह अरबपतियों की लिस्ट में एक पाय दान नीचे फिसल गए हैं।

ब्लूमबर्ग बिलिनेयर इंडेक्स के अनुसार, जुकरबर्ग अब बिल गेट्स से नीचे 5वें पायदान पर पहुँच गए हैं। आँकड़े बताते हैं कि सितंबर से अब तक उनके नेटवर्थ में करीब 19 अरब डॉलर की गिरावट आई है। अमेरिकी शेयर बाजार में फेसबुक के शेयर भी लुढक गए। शेयर में 5 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। शेयर सितंबर के मध्य से लेकर अब तक 15 फीसदी तक गिरा है। अब जुकरबर्ग की नेटवर्थ कम होकर 122 अरब डॉलर रह गई है। कुछ दिन पहले वह अमीरों की लिस्ट में चौथे नंबर पर थे। लेकिन अब वह फिर से बिल गेट्स से पिछड़ गए हैं। गेट्स 124 अरब डॉलर की नेटवर्थ के साथ इस सूची में अब चौथे नंबर पर हैं।

13 सितंबर को वॉल स्ट्रीट जर्नल ने इंटरनल डॉक्यूमेंट्स के आधार पर एक सीरीज पब्लिश की थी, जिसमें खुला सा किया गया कि फेसबुक अपने सभी प्रोडेक्ट की खा मियों के बारे में अच्छे से जानता है। इनमें इंस्टाग्राम से युवा लड़कियों की मेंटल हेल्थ को होने वाले नु कसान और 6 जनवरी के कैपिटल दं गों के बारे में ग लत सूचना की घट नाएँ शामिल हैं।

Also Read : डोनाल्ड ट्रम्प ने मार्क जुकरबर्ग के लिए कह दी ये बात

मार्क जुकरबर्ग ने यूजर्स को हुई असुविधा के लिए माँगी माफी

इसका संज्ञान सोमवार को एक Whistleblower ने लिया। इसके जवाब में फेसबुक ने इस बात पर जोर दिया है कि राजनीतिक ध्रुवी करण सहित उसके प्रोडेक्ट को लेकर हो रही समस्याएँ जटिल हैं और ये सब केवल टेक्नॉलॉजी की वजह से नहीं हुआ है। फेसबुक के वैश्विक मामलों के उपाध्यक्ष निक क्लेग ने सीएनएन को बताया, “मुझे लगता है कि लोगों की समझ के लिए ये जरूरी है कि यूएस में राजनीतिक ध्रुवी करण के मुद्दों को एक साधारण रूप से समझने वाला होना चाहिए।”

फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने यूजर्स को हुई इस असुविधा के लिए माफी भी माँगी है। फेसबुक ने भी एक बयान जारी कर कहा है कि लोगों और कारोबारियों को विश्व भर में हुई परे शानी के लिए वह खे द जताता है। हालाँकि फेसबुक ने यह नहीं बताया है कि इस तकनीकी कमी का कारण क्या रहा है। वहीं व्हाट्सऐप ने भी एक बयान जारी कर यूजर को हुई परे शानी के लिए माफी माँगी है। कहा गया कि व्हाट्सऐप की सेवाएँ धीरे-धीरे सामान्य हो रही हैं और तकनीकी कमियों पर काम किया जा रहा है।