24.9 C
New York
Saturday, June 15, 2024

Buy now

पंजाब के CM चन्नी के भतीजे को लेकर आ रही ये खबर….

पंजाब विधानसभा चुनाव (Punjab Election 2022) से पहले पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (CM Charanjit Singh Channi) के परिवार को लेकर एक बहुत ही अहम खबर आ रही है। चुनाव से पहले ही चरनजीत सिंह चन्नी के परिवार के एक व्यक्ति को हवालात भेजा गया है। इस खबर के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि आखिर पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के परिवार के एक व्यक्ति को हवालात क्यों भेजा गया है और इसे लेकर क्यों हो रही है खूब चर्चाएं। साथ ही साथ इस मामले को लेकर हम आपको कई अन्य जानकारी ही देने वाले हैं। आइए आपको पूरी खबर विस्तार से बताते हैं।

चरणजीत सिंह चन्नी के भतीजे से हुई पूछताछ

चरणजीत सिंह चन्नी के भतीजे भूपिंदर सिंह हनी (Bhupendra Singh Honey) से बीते लगभग 8 घंटों से पूछताछ की जा रही थी। 8 घंटे तक पूछताछ चलने के बाद ही प्रवर्तन निदेशालय (ED) द्वारा चरणजीत सिंह चन्नी को हवालात भेजने का निर्णय लिया गया है। आपको बताते चलें कि बीते गुरुवार को चरणजीत सिंह चन्नी के भतीजे को प्रवर्तन निदेशालय ने पूछताछ करने के लिए ऑफिस लेकर आई थी। जहां उनसे लगातार 8 घंटे तक पूछताछ हुई। पूछताछ में कुछ ऐसी बातें सामने आई जो संवैधानिक रूप से सही नहीं था।

इस मामले में धरा गया भूपिंदर सिंह हनी

भूपिंदर सिंह हनी पंजाब में असंसदीय रूप से बालू का खनन कर रहे थे। इसी मामले में उनसे पंजाब के जालंधर (Jalandhar) में प्रवर्तन निदेशालय पूछताछ कर रही थी। लगभग 2 हफ्ते पहले प्रवर्तन निदेशालय भूपिंदर सिंह हनी और उनके कई साथियों के उन स्थानों पर पहुंची थी। जहां वे लोग असंसदीय कार्य करते हैं। प्रवर्तन निदेशालय को तीनों के घर से करोड़ों रुपए मिले थे। तीनों व्यक्ति में से किसी ने भी उन पैसों के बारे में जानकारी देने से मना कर दिया था।

Also Read:- अपर्णा यादव ने समाजवादी पार्टी को दिया जवाब, यादव हूं, शेरनी हूं, सपाइयों से…

चरणजीत सिंह चन्नी के भतीजे के घर से मिले थे 7.9 करोड रुपए

चरणजीत सिंह चन्नी के भतीजे भूपिंदर सिंह हनी के घर से प्रवर्तन निदेशालय को 7.9 करोड रुपए कैश (Cash) मिले थे तो वहीं दूसरी तरफ भूपेंद्र सिंह हनी के सहयोगी के घर से दो करोड़ रुपए मिले थे। जिनका नाम संदीप कुमार  (Sandeep Kumar)है। दोनों व्यक्ति बेनामी कंपनी बनाकर काम कर रहे थे। प्रवर्तन निदेशालय द्वारा इस बात की भी जानकारी दी गई है कि भूपेंद्र सिंह हनी कुदरत दीप सिंह (Kudarat Deep Singh) और संदीप कुमार प्रोवाइडर्स ओवरसीज सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक के रूप में काम कर रहे थे। इस कंपनी को वर्ष 2008 में बनाया गया था।

Related Articles

Stay Connected

51,400FansLike
1,391FollowersFollow
23,100SubscribersSubscribe

Latest Articles