महबूबा मुफ़्ती बोली ‘गोडसे के हिंदुस्तान में नहीं रहेंगे हम’ तो लोगों ने दिया ये जवाब…

जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी (PDP) की मुखिया महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने हाल ही में एक बयान दिया है। पीडीपी पार्टी की मुखिया महबूबा मुफ्ती के द्वारा बयान देने के बाद खूब चर्चाएं हो रही है। वहीं दूसरी तरफ भारत (India) के कई लोग महबूबा मुफ्ती को लेकर सवाल करते नजर आ रहे हैं। इस खबर के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि आखिर महबूबा मुफ्ती ने अपने बयान में क्या कहा है? क्यों हो रही है इसकी चर्चाएं? आइए आपको पूरी खबर विस्तार से बताते हैं।

हम गोडसे के हिंदुस्तान में नहीं रह सकते– महबूबा मुफ्ती

केंद्र में जारी नरेंद्र मोदी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने एक बयान दिया है। महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि हम गोडसे के हिंदुस्तान (We cannot live with Godse’s India) में नहीं रह सकते हैं। उन्होंने कहा है कि अगर हमें हिंदुस्तान में रखना है तो कश्मीरियों के साथ हो रहे अनुचित बर्ताव में सुधार लाना होगा। महबूबा मुफ्ती ने अनुच्छेद 370 को लेकर भी अपने ट्विटर हैंडल के माध्यम से ट्वीट किया था। वही महबूबा मुफ्ती अपने बयानों में भी अनुच्छेद 370 को लेकर बात करती नजर आई है।

अनुच्छेद-370 दोबारा हो बहाल– महबूबा मुफ्ती

अनुच्छेद 370 को लेकर महबूबा मुफ्ती बयान देते हुए कहती है कि जम्मू कश्मीर में दोबारा अनुच्छेद 370 बहाल होना चाहिए। जम्मू कश्मीर का समाधान करना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर के लोग अपना पंचन एवं सम्मान वापस चाहते हैं। उन्होंने कहा है कि अगर हमें जम्मू कश्मीर में रहना है तो अनुच्छेद 370 को वापस लेना ही होगा। आपको बता दें कि नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का निर्णय लेने के बाद ही महबूबा मुफ्ती अनुच्छेद 370 को लेकर बयान दे रही है।

हम गांधी के हिंदुस्तान में रहना चाहते हैं

महबूबा मुफ्ती ने कहा कि हम गांधी के हिंदुस्तान में रहना चाहते है ना कि गोडसे के हिंदुस्तान में। कश्मीर के लोगों को एकजुट होने के लिए भी महबूबा मुफ्ती अपने इंटरव्यू में कहती नजर आ रही है। महबूबा मुफ्ती द्वारा इस तरह का बयान देने के बाद ही कई लोग उन्हें ट्वीट कर जवाब दे रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ कुछ लोग उनसे सवाल भी कर रहे हैं। हम आपके लिए कुछ ट्वीट्स संलग्न कर रहे हैं। जिसे देखने के बाद आप सहमत हो जाएंगे कि आखिर किस तरह से सोशल मीडिया यूजर्स उन्हें जवाब दे रहे हैं।

https://twitter.com/Bbdev61Dev/status/1463513638262640642?s=20

https://twitter.com/subutcs28/status/1463514158465355783?s=20