PM Modi की सु रक्षा मामले में एक और नई बात आई सामने…

पांच जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) पंजाब (Punjab) में परियोजनाओं का शिलान्यास के लिए गए थे। लेकिन रास्ते में ही कुछ लोगों ने उनको घेर लिया था। जिसके बाद प्रधानमंत्री वापस लौट के इसके बाद पंजाब सरकार (Punjab Government) पर उनकी रक्षा को लेकर सवाल उठा रहे हैं। उसी दिन सतलुज नदी पर एक नव मिली है। जो पाकिस्तान (Pakistan) की बताई जा रही है। आइए विस्तार से बताते हैं। आपको पूरी खबर।

पंजाब सरकार पर उठ रहे सवाल

पंजाब के फिरोजपुर (Firozpur) के एक ओवरब्रिज पर पीएम का काफिला तकरीबन 20 मिनट तक ठहरा रहा। यह इलाके पाकिस्तान के बिल्कुल नजदीक है। इसी क्षेत्र में हे रोइन बेचा जाता है। पड़ोसी देश से आने वाले लोग भी इसी क्षेत्र में आते हैं। पिछले साल ही इस क्षेत्र में कुछ लोगों ने स्थिति को अस्थिर कर दिया था। इसलिए पंजाब सरकार पर सवाल उठ रहे हैं। इसके बाद गृह मंत्रालय  (Home ministery) ने पंजाब सरकार से इसकी रिपोर्ट मांगी है।

बीएसएफ को मिली है पाकिस्तान की नाव

आपको बता दें जिस क्षेत्र में प्रधानमंत्री के काफिले को घेर लिया गया था। उसी क्षेत्र में एक नाव मिली है। नाव को पाकिस्तान की बताया जा रहा है। नव मिलने के बाद बीएसएफ (BSF) और स्थानीय पुलिस (Police) तहकीकात में लग गए हैं। सरहद पर घनी धुंध है। जिसके चलते दोनों देश के त स्कर अपना माल इधर से उधर भेज रहे हैं। पहले भी पाकिस्तानी नाव मिल चुकी हैं। सतलुज नदी के पास यह नाव मिली है।

घनी धुंध का फायदा उठाकर साजो सामानों को करते हैं इधर उधर

बीएसएफ को यह नाव ममदोट (Mamdot) के पास बीओपी (BOP) डीटी (DT) मल के नजदीक मिली है। इससे पहले भी कई बार पाक नाव भारतीय इलाके से मिल चुकी हैं। इन दिनों सरहद पर घनी धुंध पड़ रही है, इसकी आड़ में सरहद पर दोनों देशों के त स्कर अपने काम में लग जाते हैं। यह एक ऐसा रास्ता है, जिसके जरिये त स्कर आसानी से हे रोइन और साजो सामान की त स्करी करते हैं।

Also Read:-Kapil Sharma ने PM Modi को किये थे ये ट्वीट…

प्रधानमंत्री का काफिला जहां घेरा था वहां से सीमा कितनी दूर है?

पाकिस्तानी नाव मिलने के बाद बीएसएफ (BSF) अधिकारियों में ह ड़कंप मच गया था। प्रधानमंत्री पीएम मोदी ममदोट से थोड़ा ही दूर थे। आसपास के गांव से पूछताछ करना शुरू कर दिया है। जहां प्रधानमंत्री का काफिला रो का था। उससे महज 30 किलोमीटर दूर है आज भारत पाकिस्तान की सीमा है। क्षेत्र में लगातार साजो सामान मिलते रहते हैं। 15 सितंबर 2021 में जलालाबाद (Jalalabad)  कश्मीर (Kashmir) में ध माका हुआ जो फिरोजपुर की बिल्कुल नजदीक है। जांच एजेंसियों का कहना है कि प्रधानमंत्री के साथ कुछ भी हो सकता था।