बिना अनुमति निकालने जा रहे थे तिरंगा संकल्प यात्रा, धर लिए गए ‘AAP’ सांसद संजय सिंह..

तिरंगा संकल्प यात्रा का नेतृत्व करने के लिए वाराणसी पहुंचे आम आदमी पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रभारी एवं राज्यसभा सांसद संजय सिंह को कमिश्नरेट पुलिस ने धर लिया। गुरुवार सुबह भेल स्थित गणेशपुर तरना के पास एयरपोर्ट रोड पर पुलिस ने उन्हें रोका और धर लिया। इस दौरान वो पुलिसकर्मियों के साथ उलझते भी दिखे।

वो बार-बार उनसे आदेश की प्रति मांग रहे थे जिसके आधार पर उन्हें पुलिस ने रोका था। उन्होंने कहा कि वाराणसी में हर पार्टी रैली कर रही है। किसी को भी आने से नहीं रोका गया। मुझे किस कानून के तहत रोका जा रहा है। मैं कहां जा रहा हूं, किसी काम से आया हूं, इससे पुलिस को कोई मतलब नहीं होना चाहिए।

AAP नेता संजय सिंह कचहरी से लहुराबीर के बीच तिरंगा यात्रा का नेतृत्व करने बनारस पहुंचे थे। हालांकि इस यात्रा को जिला प्रशासन से अनुमति नहीं मिली थी। बावजूद इसके संजय सिंह अपने पार्टी के सदस्यों और कार्यकर्ताओं के साथ तिरंगा संकल्प यात्रा निकालने की तैयारी में जुटे थे। सुरक्षा कारणों से पुलिस ने संजय सिंह को धर लिया है। जिसे लेकर कार्यकर्ताओं में काफी आ क्रोश है।

Also Read : संजय सिंह ने योगी आदित्यनाथ को लेकर कह दिया….

‘AAP’ सांसद ने सभापति से लगाई मदद की गुहार :

इधर, हिरा सत में लिए जाने के बाद AAP सांसद ने राज्य सभा के सभापति से गुहार लगाई। उन्होंने ट्वीट कर कहा- माननीय सभापति जी मुझे गैर-कानूनी ढंग से वाराणसी शिवपुर में भारी पुलिस बल के साथ रोका गया है। मेरे साथ कोई भी घ टना घटित हो सकती है। कृपया तत्काल हस्तक्षेप करें।

कल की ख़बर है कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को आगरा जाते समय धर लिए जाने पर वाराणसी में कांग्रेस कार्यकर्ता आक्रो शित हो उठे। बुधवार की देर शाम कांग्रेस नेताओं ने मशाल ज लाकर वि रोध दर्ज कराया। कांग्रेस की ओर से कचहरी स्थित अंबेडकर पार्क में मशाल ज लाकर आ क्रोश व्यक्त किया गया। कार्यकर्ताओं ने मशाल जु लूस निकालने का प्रयास किया तो पुलिस से नोकझोंक भी हुई।

पुलिस हिरा सत में मृ त सफाई कर्मी अरुण वाल्मीकि के परिवार से आगरा मिलने जा रहीं प्रियंका गांधी को धर लिए जाने की सूचना पर कांग्रेसी उबल पड़े। वि रोध स्वरूप देर शाम को कांग्रेस की ओर से भीड़ वाली मशाल यात्रा का आयोजन किया गया। पुलिस ने बल प्रयोग करके कांग्रेसियों को मशाल जु लूस निकालने से रोक दिया।

पूर्व विधायक अजय राय ने कहा कि कांग्रेस का कार्यकर्ता न डरा है न डरेगा। जनता के हक अधिकार के लिए सं घर्ष जारी रहेगा। इस दौरान राघवेंद्र चौबे, राजेश्वर पटेल, अनुभव राय, परवेज खान, फसाहत हुसैन बाबू, दिलीप चौबे, मनीष चौबे, शैलेन्द्र सिंह, अनुराधा यादव आदि शामिल रहे।