अब इस रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर “रानी लक्ष्मीबाई’ रखा जाएगा,योगी सरकार ने भेजा प्रस्ताव..

उत्तर प्रदेश में अब से कुछ समय के बाद विधानसभा चुनाव होने वाला है। राजनितिक माहौल चरम पर है। इस बीच योगी सरकार प्रदेश के एक रेलवे स्टेशन का नाम बदलने जा रही है। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार ने कमान संभालने के बाद से मुगल बादशाहों के नाम पर रखे रेलवे स्टेशन, शहर और बाजारों के नाम बदले है। अब इसी कड़ी में एक और रेलवे स्टेशन का नाम शामिल होने जा रहा है।

बदला जाएगा झांसी रेलवे स्टेशन का नाम

दरअसल यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने झांसी रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर “वीरांगना लक्ष्मीबाई रेलवे स्टेशन” करने का प्रस्ताव गृहमंत्रालय को भेजा है। इस प्रस्ताव पर गृहमंत्रालय का कहना है कि प्रक्रिया के तहत, संबंधित एजेंसियों से टिप्पणियां मांगी गई हैं। एजेंसियों की टिप्पणी और राय के बाद ही गृह मंत्रालय इस प्रस्ताव पर आगे कदम बढ़ायेगा। आपको बता दें कि इससे पहले यूपी में मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन रख दिया गया था। इसी तरह से इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज रखा गया।

Also Read:- लालकिले में परिदा भी नहीं मार सकेगा पर, लगेगा ये खास सिस्टम…

रानी लक्ष्मीबाई के नाम पर होगा रेलवे स्टेशन का नाम

रानी लक्ष्मीबाई के नाम पर झांसी रेलवे स्टेशन का नाम रखने पर विचार किया जा रहा है। रानी लक्ष्मीबाई 1857 की क्रांति का मुख्य किरदार थी। उनकी वीरता के किस्से सुन आज भी रौंगटे खड़े हो जाते है। नारी शक्ति की प्रतीक रानी लक्ष्मीबाई के नाम पर झांसी रेलवे स्टेशन का नाम उनके नाम पर रखने का विचार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया है। इसको जल्द से जल्द अमल में लाने के लिए गृहमंत्रालय को प्रस्ताव भी भेजा जा चुका है।