ICICI And SBI बैंकों ने जारी किया जरूरी अलर्ट,सावधान रहें, वरना खाली हो सकता है बैंक खाता!

ICICI And SBI: आज के डिजिटल युग में, बैंकिंग लेनदेन पहले से कहीं अधिक आसान हो गए हैं। UPI, मोबाइल ऐप्स और इंटरनेट बैंकिंग जैसी सुविधाओं ने हमें घर बैठे ही पैसे भेजने और लेने की सुविधा प्रदान की है।

लेकिन इस सुविधा के साथ ही, साइबर अपराधियों ने भी अपना धंधा जमा लिया है। वे ग्राहकों को धोखा देने और उनके बैंक खातों से पैसे निकालने के लिए नए-नए तरीके अपना रहे हैं।

हाल ही में, ICICI और SBI बैंकों ने अपने ग्राहकों के लिए जरूरी अलर्ट जारी किए हैं। इन अलर्ट में बैंकों ने ग्राहकों को साइबर अपराधियों से सावधान रहने और अपनी बैंकिंग जानकारी को सुरक्षित रखने के लिए कहा है।

ICICI And SBI: ICICI बैंक द्वारा जारी अलर्ट:

ICICI बैंक ने अपने ग्राहकों को एक ईमेल भेजा है जिसमें उन्हें एक नए UPI घोटाले के बारे में चेतावनी दी गई है। इस घोटाले में, साइबर अपराधी ग्राहकों को एक फर्जी ऐप का लिंक भेजते हैं जो उनके UPI पिन को चुरा लेता है।

बैंक ने ग्राहकों को सलाह दी है कि वे किसी भी अनजान व्यक्ति द्वारा भेजे गए लिंक पर क्लिक न करें और न ही अपनी बैंकिंग जानकारी किसी के साथ साझा करें।

ये भी देखें:-Aadhaar Card को अपने मोबाइल नंबर से तुरंत करें लिंक, वरना अटक जाएंगे कई काम!

ICICI Bank's ESG initiatives: impacting lives, empowering communities  responsibly - India CSR

ICICI And SBI: SBI बैंक द्वारा जारी अलर्ट:

SBI बैंक ने अपने ग्राहकों को एक मैसेज भेजा है जिसमें उन्हें एक फर्जी YONO खाता अपडेट मैसेज के बारे में चेतावनी दी गई है। इस मैसेज में, साइबर अपराधी ग्राहकों को एक लिंक भेजते हैं जो उन्हें एक फर्जी वेबसाइट पर ले जाता है।

इस वेबसाइट पर, ग्राहकों को अपना पैन नंबर और अन्य बैंकिंग जानकारी डालने के लिए कहा जाता है।

बैंक ने ग्राहकों को सलाह दी है कि वे किसी भी फर्जी मैसेज या ईमेल का जवाब न दें और न ही अपनी बैंकिंग जानकारी किसी के साथ साझा करें।

ये भी देखें:- KYC कर लें Update: अगर आप भी हैं SBI के ग्राहक तो तुरंत कर लें ये काम,नही तो न ले पाएंगे सब्सिडी के पैसे..

SBI Q1 Results: Profit More Than Doubles On Higher Other Income

सुरक्षित रहने के लिए कुछ महत्वपूर्ण टिप्स:

  • किसी भी अनजान व्यक्ति द्वारा भेजे गए लिंक पर क्लिक न करें।
  • अपनी बैंकिंग जानकारी किसी के साथ साझा न करें, चाहे वह कितना भी भरोसेमंद क्यों न लगे।
  • केवल बैंक की आधिकारिक वेबसाइट और ऐप का उपयोग करें।
  • अपने मोबाइल डिवाइस पर एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर स्थापित करें।
  • अपने बैंकिंग लेनदेन पर नज़र रखें और किसी भी संदिग्ध गतिविधि की तुरंत रिपोर्ट करें।
बैंकों की ओर से जारी अलर्ट को गंभीरता से लें और अपनी बैंकिंग जानकारी को सुरक्षित रखें।

यह जानकारी आपके लिए उपयोगी है, तो इसे अपने दोस्तों और परिवार के साथ साझा करें।