Army में सिपाही से लेकर सेना अध्यक्ष तक मिलती है इतनी सैलरी!

भारतीय सेना (Indian Army) में प्रत्येक वर्ष हजारों युवा शामिल होते हैं। वहीं दूसरी तरफ हजारों युवा ऐसे भी हैं। जो सेना में शामिल होना चाहते हैं। लेकिन किसी वजह से वह पीछे रह जाते हैं। क्या आपको पता है कि सेना में शामिल होने के बाद सेना के जवानों को कितनी तनख्वाह (Salary) मिलती है। इस खबर के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि अगर आप सेना में शामिल होते हैं तो आपको किस पद के लिए कितनी तनख्वाह दी जाएगी। साथ ही साथ हम आपको कई पदों के बारे में भी जानकारी देने वाले हैं। आइए आपको पूरी खबर विस्तार से बताते हैं।

भारतीय सेना के पद

सेना (Army) में कई तरह के पद होते हैं। कुछ लोग तो सीधे तौर पर अलग-अलग पद पर जाना चाहते हैं तो वहीं दूसरी तरफ कुछ ऐसे भी लोग हैं। जो केवल सेना में शामिल होने के बाद ही खुश हो जाते हैं। सीमा में आपको सिपाही (Soldier) से लेकर सेना अध्यक्ष तक देखने को मिलेगा। अगर इनकी तनख्वाह (Salary) की बात करें तो कई लोगों को महीने के आधार पर मिलती है तो वहीं कुछ को पेबैंड, ग्रेड पे (Grad Pay)  इत्यादि के रूप में तनख्वाह दी जाती है।

सैलरी के साथ ही साथ मिलती है कई अन्य सुविधाएं

सेना (Army) में शामिल होने के बाद सिपाहियों (Soldiers) को सैलरी (Salary) के साथ ही साथ कई अन्य सुविधाएं भी दी जाती है। ऑफिसर रैंक (Officer Rank) वालों की लाखों में सैलरी होती है। भारतीय सेना के सिपाहियों को लगभग 25 हजार रुपए महीने के आधार पर सैलरी हर महीने दी जाती है। इसके अलावा लांस नायक ( Lance naik) को करीब 30,000 रुपये और हवलदार को करीब 40,000 रुपये प्रति महीने सैलरी मिलती है।

Also Read:- Make In India के जरिये आत्मनिर्भर बनता भारत!

सूबेदार को मिलती है इतनी सैलरी

सूबेदार रैंक के अफसर (Officer) को भी अच्छा-खासा सैलरी दी जाती है। जूनियर कमीशंड ऑफिसर (Junior Commissioned Officer) की तरह ही सूबेदार रैंक के ऑफिसर भी होते हैं। नायब सूबेदार को लगभग 45,000 रुपये, सूबेदार को 50,000 और सूबेदार मेजर को 65,000 रुपये हर महीने सैलरी दी जाती है। लेफ्टिनेंट (lieutenant) को लगभग 68 हजार रुपये, कैप्टन (Captian) को लगभग 75 हजार रुपये और मेजर (Major) को लगभग 78 हजार रुपये हर महीने सैलरी दी जाती है। सेना में शामिल लोगों को परिवहन का इस्तेमाल करने के लिए भी अलग से पैसे दी जाती है।