कैसे पहचाने की कोई आपकी कॉल को रिकॉर्ड कर रहा है

How to identify if someone is recording your call: टेक्नोलॉजी का हमारे जीवन में इतना हस्तक्षेप है कि वर्तमान समय में बिना इसके जीवन की कल्पना करना भी मुश्किल हो गया है। ऐसे में अपनी प्राइवेसी का ध्यान रखना बहुत जरूरी हो गया है। सावधानी हटते ही इंटरनेट पर मौजूद कोई भी शख्स हमारी गोपनीय जानकारी को चुरा सकता है। वह हमें आर्थिक नुकसान पहुँचा सकता है, या फिर जुर्म के दलदल में फसा भी सकता है।

किसी की निजात में सेंध लगाने का सबसे पुराना और अच्छा तरीका कॉल रेकॉर्डिंग है। पहले कॉल रिकॉर्ड करना थोड़ा कठिन काम था मगर आज के समय में कॉल रेकॉर्डिंग का फीचर बहुत आम हो गया है। एंड्राइड फ़ोन्स में यह फीचर बड़ी आसानी से देखने को मिलता है। वैसे तो कई कंपनियां अपने स्मार्टफोन में पहले से ही वॉयस कॉल रिकॉर्ड करने का फीचर इनबिल्ट देती हैं लेकिन जिन एंड्रॉयड स्मार्टफोन में यह फीचर नहीं आता है तो उसके लिए गूगल प्ले स्टोर है। प्लेस्टोर पर ढेरों ऍप्स मौजूद हैं जो कि वॉयस कॉल रिकॉर्ड करने की सुविधा देती हैं।

How to identify if someone is recording your call: आज हम आपको बता रहे हैं कि कैसे पहचाने की कोई आपकी कॉल को रिकॉर्ड कर रहा है-

मान लीजिए आप कॉल पर किसी से कुछ निजी बात कर रहे है। फ़ोन पर बात करने के दौरान ऐसा लगे कि कुछ सेकंड या मिनट्स पर बीप की आवाज आ रही है तो आपको यह समझ जाना चाहिए कि कॉल रिकॉर्ड हो रही हैं। कॉल रिकॉर्डिंग को पहचानने का यह सबसे आसान तरीका है। हमेशा वॉयस कॉल के शुरू में या फिर बीच-बीच में बीप की आवाज आने पर कॉल रिकॉर्डिंग की संभावना रहती है।

कॉल रिकॉर्डिंग को पहचानने का दूसरा तरीका यह है कि अगर आपने किसी को कॉल किया है और उसने आपकी कॉल को स्पीकर पर डाल दिया है तो आपके कॉल के रिकॉर्ड होने की संभावना है क्योंकि स्पीकर पर रखके वॉयस कॉल को रिकॉर्ड करना सबसे आसान तरीका है।इसके लिए कॉल के दौरान किसी रिकॉर्डर या दूसरे फोन को पास में रखकर कॉल रिकॉर्ड की जा सकती है। ऐसे में अगर आपको जिस व्यक्ति पर भरोसा न हो और वह आपसे स्पीकर पर बात कर रहा है तो आपको सचेत हो जाना चाहिए कि कहीं आपकी कॉल रिकॉर्ड तो नहीं हो रही है।

कॉल रिकॉर्डिंग को पहचानने का तीसरा तरीका है कि जब आपने किसी व्यक्ति को कॉल किया है और उस दौरान आपको अलग से शोर आ रहा है तो हो सकता है कि आपकी कॉल को रिकॉर्ड किया जा रहा है। ऐसी स्थिति में कई बार आपको बीच-बीच में शोर आएगा तो इससे भी यह पता चलता है कि आपकी कॉल रिकॉर्ड हो रही है।

कॉल रिकॉर्डिंग से बचने के लिए आपको कॉल के दौरान इन छोटी-छोटी चीजों पर ध्यान देना जरूरी है। आपको बता दे कि किसी भी व्यक्ति की बातचीत को बिना उसकी सहमती के रिकॉर्ड करना संविधान के आर्टिकल 21 के विरुद्ध है। देश के सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के अनुसार संविधान के आर्टिकल 21 के तहत जीवन के मूलभूत अधिकारों में प्राइवेसी का अधिकार भी शामिल है। यानी कि किसी भी व्यक्ति की पर्सनल कॉल को रिकॉर्ड करना प्राइवेसी के अधिकार का हनन करना है।