18.2 C
New York
Monday, June 17, 2024

Buy now

बेटे-बहू ने बुज़ुर्ग पिता को लात मार घर से निकाला तो बेटी बनी सहारा !

जो पिता उंगली पकड़कर बच्चे को जीवनपथ पर चलना सीखाता है। उन्हें ही उनके लाडले बड़े होकर प्रताड़ित कर रहे हैं। ऐसे में उनके दिल पर क्या बीतती है, इसका अंदाजा सिर्फ वे ही लगा सकते हैं, जो इसका शिकार होते हैं।प्रताड़ित करने वाले बच्चे शायद भूल जाते हैं कि जो वे आज कर रहे हैं, वही भविष्य में उनके बच्चे भी उनके साथ कर सकते हैं। यही वजह है कि बुजुर्गों को प्रताड़ित करने के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। एक ऐसा ही मामला सामने आया है नागौर के दीदवाना से। बुज़ुर्ग पिता यहाँ एक बुज़ुर्ग पिता न्याय के लिए भटक रहा है।

बुज़ुर्ग पिता
बेशर्म बेटे-बहु ने की प्रताड़ना की हद पार!

हेमराज के 4 पुत्र थे, जिसमें से दो की अकाल मृत्यु हो गई। अब दो बेटे हैं, लेकिन बुढ़ापा अपनी कमाई से बनाए मकान में निकालने की ख्वाहिश से बेटे के पास रहने की चाह की तो बेटे-बहू ने घर के बिजली-पानी के कनेक्शन कटवा दिए। यहां पर भी बेटे-बहू की सितम कम नहीं हुए, बुजुर्ग पिता को मारपीट कर घर से बेघर कर दिया और खुद ही मकान पर कब्जा कर के बैठ गए। अब न तो बेटे बहू बुजुर्ग को घर में आने दे रहे हैं और न ही अन्य रिश्तेदारों और दूसरे बेटे को घर में आने दे रहे हैं।

Read More: Shraddha Murder Case: सामने आया बड़ा खुलासा, मौत से पहले श्रद्धा ने सहेली को मैसेज कर कहा- यार, मुझे खबर मिली है…..


बुज़ुर्ग पिता को दिया बेटी ने सहारा!

मजबूरन बुज़ुर्ग पिता को अब बेटी के घर में आश्रय लेना पड़ रहा है। हेमराज का छोटा बेटा बांसवाड़ा रहता है, वहां भी हेमराज कुछ दिन रहे, लेकिन वहां की आबोहवा हेमराज को रास नहीं आई, जिसके चलते अब हेमराज बेटी के घर रहने को मजबूर है। मारपीट और घर से निकलने के बाद बुजुर्ग हेमराज ने पुलिस को भी इसकी शिकायत की, लेकिन पुलिस ने भी केवल एप्लीकेशन लेकर इतिश्री कर ली।तीन साल से दर-दर की ठोकरें खा रहे बुजुर्ग ने आज डीडवाना उपखंड अधिकारी जीतू कुलहरी के सामने अपनी पीड़ा रखकर न्याय की मांग की। उपखंड अधिकारी जीतू कुलहरी ने बुजुर्ग हेमराज की पीड़ा सुनकर उनको न्याय का आश्वासन दिया।

Related Articles

Stay Connected

51,400FansLike
1,391FollowersFollow
23,100SubscribersSubscribe

Latest Articles