18.4 C
New York
Monday, June 17, 2024

Buy now

अब राजीव गांधी नहीं बल्कि मेजर ध्यानचंद के नाम से होगा ‘खेल रत्न पुरष्कार’ लोगों का जबरदस्त समर्थन..

Tokyo Olympic: तोक्यो ओलंपिक में भारत के शानदार खेल की हर तरफ तारीफ हो रही है। पहली बार भारत में लोग क्रिकेट(Cricket) के अलावा हॉकी(Hockey), बैडमिंटन(Badminton), कुश्ती(Wrestling), तीरंदाजी(Archery), गोला फेक(Discus throw) और भाला फेक(Javelin throw) आदि खेलों को देख रहे है। तोक्यो ओलंपिक में भारतीय खिलाड़ियों के जबरदस्त खेल ने भारत (India) में खेलों के लिए एक नए युग की शुरुआत कर दी है। हॉकी की महिला और पुरुष टीम के लाजवाब खेल ने देशवासियों को एक बार फिर से याद दिलाया कि “हॉकी” भारत का राष्ट्रीय खेल है। तोक्यो ओलंपिक में भारतीय खिलाड़ियों का शानदार सफर अभी भी जारी है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खेलों से जुड़ा एक अहम फैसला लिया है।

अब राजीव गांधी नहीं बल्कि मेजर ध्यानचंद के नाम से होगा ‘खेल रत्न पुरष्कार’

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narenedra Modi) ने खिलाड़ियों का उत्साह बढ़ाने और खेल को बढ़ावा देने के लिए “खेल रत्न पुरस्कार” (Rajiv Gandhi Khel Ratna Award) का नाम हॉकी (Hockey) के जादूगर मेजर ध्यानचंद (Major Dhyan Chand) के नाम पर रखने का फैसला लिया है। इसकी जानकारी पीएम ने ट्वीट करके दी। पीएम मोदी के इस फैसले से देश में एक अलग ही उत्साह देखने को मिल रहा है। खेल रत्न पुरस्कार का नाम राजीव गांधी के नाम से बदलकर एक खिलाड़ी के नाम पर वह भी मेजर ध्यानचंद के नाम पर करने के पीएम के फैसले का देश की जनता ने दिल खोलकर स्वागत किया है।

पीएम मोदी ने ट्वीट करके दी जानकारी

पीएम मोदी ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ” देश को गर्वित कर देने वाले पलों के बीच अनेक देशवासियों का ये आग्रह भी सामने आया है कि खेल रत्न पुरस्कार का नाम मेजर ध्यानचंद जी को समर्पित किया जाए। लोगों की भावनाओं को देखते हुए, इसका नाम अब मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार किया जा रहा है। जय हिंद!

Also Read:- Tokyo Olympics: रवि दहिया के दांव से चरोंखाने चित हुआ कजाखिस्तानी पहलवान, छूटने के लिए कि ये शर्मनाक हरकत…

देश की जनता कर रही खुले दिल से स्वागत

देश की जनता ने पीएम के इस फैसले का दिल खोलकर स्वागत किया है। लोग ट्विटर और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर इस बात की तस्दीक कर रहे है। वहीं कुछ लोग कांग्रेस को घेर रहे है।

एक ट्विटर यूजर ने ट्वीट किया,”मोदी जी ऐसे फैसले लेने से पहले देश में बर्नोल की आपूर्ति सुनिश्चित करे।

वहीं एक यूजर ने लिखा कि, जब भी निर्णय लेते हैं कि अब बीजेपी को वोट नहीं करेंगे, तभी मोदी जी कुछ ऐसा कर देते हैं कि फिर से निर्णय बदलना पड़ता है।

https://twitter.com/iChawlaDinesh/status/1423544798695215105?s=19

एक और यूजर ने इस फैसले पर अपना समर्थन देते हुए लिखा, “आपकी बात से पूर्णतया सहमत हूँ, आदरणीय। खेल रत्न पुरस्कार किसी खिलाड़ी के नाम पर हो और वो भी देश को गौरान्वित करने वाले मेजर ध्यानचंद जी के नाम तो इससे बड़ा सम्मान आज और भविष्य में खेल रत्न पुरस्कार पाने वाले खिलाड़ियों के लिए नहीं हो सकता। जय हिंद।

Related Articles

Stay Connected

51,400FansLike
1,391FollowersFollow
23,100SubscribersSubscribe

Latest Articles