33.1 C
New York
Thursday, June 20, 2024

Buy now

PM Modi की तारीफ़ में बोले Ghulam Nabi Azad, “मोदी साहेब में इंसानियत है, पहले मैं उनको गलत समझता था”

कांग्रेस(Congress) के पूर्व नेता गुलाम नबी आजाद( Ghulam Nabi Azad) ने हाल ही पार्टी छोड़ दी थी. हाल ही पार्टी छोड़ते वक़्त उन्होंने अपनी चिट्ठी में तमाम बातें कहीं थी. जिसमे उन्होंने राहुल गाँधी(Rahul Gandhi) पर जमकर निशाना साधा था. अब एक बार फिर से गुलाम नबी आजाद ने राहुल गाँधी को अपने तीखे तेवर दिखाए हैं. यही नहीं इस बार उन्होंने कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया(Sonia Gandhi) गांधी पर ही हमला बोला है. आजाद ने एएनआई(ANI) से बातचीत में कहा कि अब तो कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक की अध्यक्षता ही विदेश से हो रही है. यदि ऐसा ही था तो फिर बैठक करके जा सकते थे. कांग्रेस कैसे खड़ी होगी, जब अध्यक्ष के पास ही टाइम नहीं है, जो मेरी टाइमिंग की बात करते हैं, उन लोगों के पास कांग्रेस के लिए टाइम ही कहां है. बता दें कि सोनिया गांधी इलाज के उद्देश्य से विदेश में हैं. उनके साथ ही राहुल गांधी और प्रियंका गांधी भी विदेश गए हुए हैं.

Will Ghulam Nabi Azad's New Party Only End Up Fragmenting Anti-BJP Vote in Jammu?

आजाद ने कांग्रेस पर साधा निशाना

गुलाम नबी आजाद ने कांग्रेस को लेकर कहा कि घर गिर रहा है और अब खंभे भी गिर रहे हैं. उसमें दबकर मरने से अच्छा है कि बाहर निकल जाएं. जिन लोगों को सती होना है, वे वहां रहें. राज्यसभा सीटों को लेकर भी गुलाम नबी आजाद ने हमला बोला और कहा कि कुछ लोग अजेंडा सेट करने के लिए उच्च सदन गए हैं, मैंने जब सोनिया गांधी को पार्टी में सुधार के लिए चिट्ठी लिखी थी तो मैं 6 दिनों तक सो नहीं पाया था. मैंने जिस पार्टी को खून देकर खड़ा किया था, उसके लिए ऐसा करना चिंता की बात थी. कांग्रेस के नए नेताओं को लेकर गुलाम नबी आजाद ने कहा कि आज जो हैं वो तो कहीं की ईंट और कहीं का रोड़ा हैं और वे आज लोग हम जैसे कांग्रेसियों को पर सवाल उठा रहे हैं.

Republic TV Exclusive: In 1st interview post Congress exit, Ghulam Nabi Azad tells Republic ''only wanted respect'' | India News

पीएम मोदी (PM Modi) की जमकर तारीफ

इस मौके पर गुलाम नबी आजाद ने पीएम नरेंद्र मोदी की भी जमकर तारीफ की है. आजाद ने कहा कि मैं समझता था कि मोदी जी क्रूड आदमी हैं. उन्होंने शादी नहीं की और बच्चे नहीं हैं तो उन्हें किसी की परवाह नहीं होगी,लेकिन उन्होंने इंसानियत दिखाई है. जब गुजरातियों की एक बस पर कश्मीर में हमला हुआ था तो लोगों के चिथड़े उड़ गए थे. उस दौरान मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी का फोन आया था और मैं चिल्ला रहा था. भावुक था और फूट-फूटकर रो रहा था. इसी बात पर पीएम नरेंद्र मोदी ने संसद में बात की थी. उनके कहने का यह मतलब नहीं था कि गुलाम नबी आजाद के जाने के बाद उनका खाना कैसे हजम होगा.

Ghulam Nabi Azad praises Modi for his groundedness

 

 

Related Articles

Stay Connected

51,400FansLike
1,391FollowersFollow
23,100SubscribersSubscribe

Latest Articles