29.3 C
New York
Friday, July 19, 2024

Buy now

आमिर खान के घर ED की छापेमारी! नोटों की गड्डी देख फटी रह गई जांच अफसरों की आंखें………

ईडी(ED) ने शनिवार को मोबाइल गेमिंग एप्लिकेशन से जुड़े धोखाधड़ी के मामले में कोलकाता के कारोबारी के कई ठिकानों पर छापेमारी की है. इस छापेमारी में कारोबारी के पास भारी मात्रा में नगदी बरामद की. ये वसूली व्यवसाय निसार खान और उसके छोटे बेटे आमिर खान के गार्डेनरीच में स्थित ट्रांसपोर्ट के घर से ये रूपये मिले हैं. ईडी ने ये कार्यवाही प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट(PMLA) 2002 के प्रावधानों के तहत की है.

मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो, प्रवर्तन निदेशालय ने शनिवार को मनी लॉन्ड्रिंग के तहत कोलकाता की एक मोबाइल गेमिंग ऐप कंपनी के प्रोमोटरों पर छापेमारी के बाद 17.32 करोड़ रुपये नकद जब्त किये हैं. जांच एजेंसी की तलाशी शनिवार सुबह शुरू हुई और नकदी की गिनती देर रात तक चलती रही. ईडी की तलाशी के साथ बैंक अधिकरी और केंद्रीय बल भी मौजूद थे.

नोटों की ढेर ज्यादातर 500 रूपये मूल्यवर्ग के थे. हालांकि, 2000 रूपये और 200 रूपये के नोट भी थे. छापेमारी प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट(PMLA) के प्रावधानों के तहत हुई थी. फेडरल बैंक के अधिकारियों द्वारा मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट की अदालत में दायर एक शिकायत के आधार पर आमिर खान और अन्य के खिलाफ 15 फरवरी को कोलकाता के पार्क स्ट्रीट पुलिस स्टेशन में पहली सुचना रिपोर्ट(FIR) के आधार पर दर्ज किया गया था.

ईडी(ED) ने कहा कि, आमिर खान ने ई-नगेट्स से एक मोबाइल गेमिंग एप्लिकेशन लॉन्च किया, जिसे जनता को धोखा देने के उद्देश्य से डिज़ाइन किया गया था. प्रारंभिक अवधि के दौरान एजेंसी ने कहा उपयोगकर्ताओं के कमीशन के साथ पुरस्कृत किया गया था और वॉलेट में शेष राशि को परेशानी से मुक्त किया जा सकता था. जाँच एजेंसी ने आगे कहा कि, “इससे उपयोगकर्ताओं में शुरवाती विश्वास पैदा हुआ और उन्होंने अधिक प्रतिशत कमीशन और अधिक संख्या में खरीद आर्डर के लिए बड़ी मात्रा में निवेश करना शुरू कर दिया”.

 

 

Related Articles

Stay Connected

51,400FansLike
1,391FollowersFollow
23,100SubscribersSubscribe

Latest Articles