क्या आप शराब के फायदे जानते है? पढ़िए पूरी खबर..

लोग ऐसे कहते हैं की शराब(Alcohol) पीना सेहत(Health) के लिए बहुत नु क्शान देह है। लेकिन इसे शरीर पर रगड़ने से बहुत फायदा भी होता है। घा-व को जल्दी भरने के लिए भी ‘एल्कोहल’ का उपयोग कर सकते हैं। इसके अलावा शराब को ‘बॉडी’ पर रगड़ने से बहुत सारी बीमारियों से छुटकारा मिल सकता है। आइए जानते हैं की किन बीमारियों में ‘एल्कोहल’ को शरीर पर रगड़ना चाहिए।

कान में पानी जाने से :

नहाते वक्त या ‘स्विमिंग’ करते समय कई बार कान में पानी चला जाता है जिससे कान में खुजली और ‘इंफैक्शन’ होने लगती है और दर्द भी शुरू होता है। ऐसे में ‘एल्कोहल’ की बूंदों को कान के पास रगड़ना चाहिए जिससे कान के अंदर पानी सूख जाएगा। इसके अलावा ‘एल्कोहल’ में सिरका मिला कर भी उपयोग कर सकते हैं।

लाल निशान :

बुखार अथवा किसी अन्य वजह से होंठ, नाक के नीचे या ठोडी के असा – पास लाल चकत्ते हो जाते हैं जिससे काफी दर्द होता है। इसके लिए त्वचा के उस हिस्से पर ‘एल्कोहल’ लगा लें और 10 मिनट के बाद पानी से धोएं। 2-3 दिन लगातार ऐसा करने से फायदा होगा।

Also Read : Agarbatti Making Business: आप भी ऐसे शुरू कर सकते हैं अगरबत्ती का ये आसान बिजनेस,होगी अच्छी कमाई

घाव–चोट लग जाने के कारण : 

कई बार चो-ट लगने की वजह से घुटने या कोहनी पर हल्की चो-ट लग जाती है जिस कारण हमें डॉक्टर के पास जाना बहुत जरूरी नहीं होता। ऐसे में ‘कॉटन’ पर ‘एल्कोहल’ लगाकर घा-व पर लगाएं और 10 मिनट के लिए ऐसा ही करते रहें। इससे ‘इंफैक्शन’ नहीं होगी और घा-व भी बहुत जल्दी भरेगा।

मांसपेशियों में दर्द :

मांसपेशियों में दर्द होने पर दवा खाने की जगह ‘एल्कोहल’ का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए दर्द वाली जगह पर एल्कोहल रगड़ें। 1 घंटा लगा रहने के बाद इसे पानी से साफ कर लें। इससे दर्द मिट जाएगा।

खराब नाखुन : 

कई बार ‘इंफैक्शन’ की वजह से हाथ या पैर पर ‘फंगस’ की समस्या हो जाती है। ऐसे में नाखुनों का रंग सफेद या पीला पड़ जाता है और नाखुन कठोर हो जाते हैं। इसके लिए ‘कॉटन’ पर ‘एल्कोेहल’ डालें और इसे नाखुनों पर लगाएं। आधा घंटा ‘कॉटन’ को नाखुन पर ही रहने दें और फिर धोकर अच्छे से पौंछ लें। इससे ‘फंगस इंफैक्शन’ विल्कुल ठीक हो जाएगा।