ससुर ने पेश की मानवता की मिसाल, दरियादिली देख बहू के छलके आंसू!

इस शादी के सीजन में हम आपके लिए एक ऐसी खबर लेकर आए हैं जिसे पढ़ने के बाद आप भी तारीफें करेंगे। जैसा कि आपको पता है कि बहुत ही पुराने समय से लोग शादी करते आ रहे हैं। अक्सर शादियों में लड़की पक्ष के लोग लड़के वाले को दहेज (Dowry) देते हैं हालांकि यह कानून के अनुसार सही नहीं है इसके बावजूद भी बहुत सारे लोग ऐसा करते हैं। लेकिन कानपुर के एक कारोबारी ने कुछ ऐसा किया जिसे जानने के बाद आसपास के लोग शादी को लेकर खूब चर्चा कर रहे हैं। आइए आपको पूरी खबर विस्तार से बताते हैं।

कारोबारी ने किसान की बेटी से अपने बेटे का किया शादी

आपने अक्सर सुना होगा कि अमीर लोग अमीरों से ही शादी करते हैं लेकिन कानपुर में ऐसा नहीं हुआ है। कानपुर (Kanpur) से एक ऐसा मामला आया है जहां एक अमीर कारोबारी ने किसान की बेटी से अपने बेटे का शादी किया है। इस शादी को लेकर खूब चर्चाएं हो रही है। किसान की बेटी से शादी करना वह भी बिना दहेज (Dowry) लिए कोई छोटी बात नहीं है। क्योंकि आजकल के दौर में ज्यादातर लोग शादी से पहले दहेज के बारे में सोचते हैं। लेकिन कानपुर में इसका उलटा हुआ है।

घर की बहू को उपहार में दी कार

एक कारोबारी ने अपने बेटे की शादी में दहेज (Dowry) ना लेकर बल्कि उल्टा दहेज देने का काम किया है। उन्होंने इसे एक तोहफा बताया है। कानपुर (Kanpur) के रहने वाले कारोबारी अर्पण कुमार (Arpan Kumar) ने ऐसा काम किया है। शादी के दिन अर्पण कुमार अपनी बहू को उपहार में कार देते हैं। ऐसा होता देख आसपास के लोग पहले तो कुछ समझ नहीं पाते हैं लेकिन कुछ समय बाद वह लोग अर्पण कुमार की तारीफ करने लगते हैं। शादी भी खूब धूमधाम से होती है।

Also Read :- शादी में मिले 75 लाख लौटाकर कर दिया Girls Hostel को दान ! पेश की मानवता की मिसाल…

आसपास के लोग कर रहे हैं तारीफ

कानपुर (Kanpur) के कारोबारी अर्पण कुमार (Arpan Kumar) अपने इंजीनियर बेटे आदर्श राज (Aadarsh Raj) की शादी गांव के ही एक किसान चंद्रमोहन (Chandra Mohan) की बेटी अंजलि दिवेदी (Anjali Dwivedi) से तय की थी फिर दोनों की शादी वही साकेत नगर स्थित हो गयीभवन में बहुत धूमधाम से पूरी हुई। शादी की सभी रस्में होने के बाद अगले सुबह दुल्हन को नई गाड़ी में बैठाया गया था। जब दुल्हन गाड़ी में बैठ गई तो ससुर ने अपनी बहू को गाड़ी की चाबी दे दी। जब दुल्हन ने दूल्हा से पूछा कि उन्हें गाड़ी की चाबी क्यों दे रहे हैं तो उन्होंने बताया कि उनके पिताजी उपहार के रूप में उन्हें गाड़ी दी है।