Fact Check- Rahul Gandhi की सभा में भजन की धुन को हटाकर लगाया गया मातमी संगीत, जानिए क्या है पूरी सच्चाई…

इन दिनों कांग्रेस पार्टी राहुल गाँधी(Rahul Gandhi) के नेतृत्व में ‘भारत जोड़ो’ आंदोलन में व्यस्त हैं. इसको लेकर तमाम नई चीजें निकलकर सामने आ रही है. जैसे जैसे कांग्रेस इसमें आगे बढ़ रही है वैसे वैसे इसको लेकर सोशल मीडिया पर तमाम वीडियोज लोग शेयर कर रहे हैं. एक ऐसा ही वीडियो हाल ही में सामने आया जिसको लेकर लोग कह रहे हैं कि कांग्रेस ने यात्रा का आगाज एक ऐसी सभा के साथ किया जिसमें दुख भरा संगीत बज रहा था मानो ये किसी मातम की सभा हो. एक ऐसा वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री स्टालिन(Stalin) और बाकी नेता शांत मुद्रा में बैठे है. इस वीडियो के साथ लिखा है, “ ये भारत जोड़ो यात्रा है या कांग्रेस की अंतिम यात्रा”.

एक फेसबुक यूजर ने इस वीडियो को इसी कैप्शन के साथ शेयर किया है और कुछ लोग इसको देखकर हैरानी भी जता रहे हैं.

वायरल वीडियो के की फ्रेम्स को रिवर्स सर्च करने पर ये हमें कांग्रेस के आफिशियल ट्विटर हैंडल पर मिला. 23 सेकेंड के इस वीडियो में राहुल गांधी(Rahul Gandhi), राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत(Ashok Gehlot), छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल(Bhupesh Baghel) और तमिलनाडु के मुख्यमंत्री स्टालिन(Stalin)  समेत शशि थरूर(Shashi Tharur) जैसे कांग्रेस नेताओं की मौजूदगी में भजन चल रहा है. सात सितंबर, 2022 को कांग्रेस के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से इसे शेयर करते हुए लिखा गया, “वैष्णव जन तो तेने कहिये, जे पीड़ परायी जाणे रे. श्री राहुल गांधी जी सहित वरिष्ठ नेताओं ने ‘गांधी मंडपम’ में बापू को याद कर, ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के लिए प्रार्थना की. बापू के दिखाए मार्ग पर चलकर ही हम देश के पुनरुत्थान का सपना पूरा कर सकते हैं.”

हम आपको बता दें कि ये सभा 7 सितंबर को कन्याकुमारी के ‘गाँधी मंडप’ में भारत जोड़ो यात्रा से पहले आयोजित की गई थी.