24.6 C
New York
Tuesday, July 23, 2024

Buy now

Noida में ईद-ए-मिलाद के जु लूस में ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के लगे ना रे, हिंदू संग ठनों ने किया वि रोध…

नोएडा में ईद-ए-मिलाद जु लूस में पाकिस्तान जिंदाबाद का ना रा लगाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वाय रल हुआ है। वाय रल हुए इस वीडियो के बाद हिंदूवादी संग ठनों ने नोएडा सेक्टर-20 थाने पर आरो पितों को धरे जाने के लिए प्र दर्शन किया। पुलिस ने कार्र वाई करते हुए इस घट ना से जुड़े 3 आरो पितों को धरे लिया गया है। यह घटना 19 अक्टूबर 2021 (मंगलवार) की बताई जा रही है।

नोएडा पुलिस के DCP राजेश एस ने इन धरे गए लोगों की पुष्टि की है। उन्होंने बताया, “थाना सेक्टर-20 नोएडा क्षेत्रांतर्गत आयोजित जु लूस के दौरान आ पत्तिजनक नारे की वाय रल वीडियो के संबंध में मामला दर्ज करवाया है। 3 अभियुक्तों को धर लिया गया है। अन्य आवश्यक विधिक कार्य वाही की जा रही है।” पुलिस ने यह भी बताया है कि वीडियो का पुलिस द्वारा विश्लेषण किया गया है।

Also Read : जम्मू कश्मीर के कुलगाम में ऑप रेशन: बिहार के मजदूरों की ह त्या करने वाले दो और आ तंकी ढेर..

ईद के जु लूस में लगे पाकिस्तान ज़िंदाबाद के नारे

DCP के अनुसार वीडियो की एक्सपर्ट द्वारा भी जाँच करवाई गई है। एक्सपर्ट की सलाह के बाद यह प्रथम दृष्टया साबित हुआ है कि वीडियो में पाकिस्तान ज़िंदाबाद का ना रा लगाया गया है। पुलिस ने बताया है कि वीडियो में कई बार हिन्दुस्तान ज़िंदाबाद का ना रा लगाया गया पर बीच में पाकिस्तान ज़िंदाबाद भी बोला गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार यह ना रेबाज़ी पुलिस की मौजूदगी में हुई थी। जु लूस में ही मौजूद किसी ने इस वीडियो को सोशल मीडिया पर डाल दिया था। वीडियो थोड़ी ही देर में वाय रल हो गई। वीडियो के आधार पर कार्र वाई की माँग उठने लगी।

यह ना रेबाजी नोएडा के सेक्टर-8 क्षेत्र में की गई थी। वीडियो में दिख रहे फुटेज के आधार पर पुलिस ने आरो पितों की तलाश शुरू की है। अब तक इस घ टना में मो. जफर, समीर अली और अली रजा पकड़े जा चुके हैं। घ टना के बाद से बाकी आरो पित फ रार हैं जिनकी तलाश की जा रही है।

ग़ौरतलब है कि ऐसे ना रे पहली बार नहीं लगे हैं। जहाँ भी मौक़ा मिलता है एक ख़ास समुदाय के लोग पड़ोसी देश के सपोर्ट में बोलने से नहीं चूकते। प्रशासन की तरफ़ से कार्र वाई भी होती है परन्तु इसका ख़ास असर होता नहीं दिख रहा। अब सरकार को चाहिए कि इसके ऊपर ठोस नियम और क़ानून बनाये ताकि ऐसे तत्वों से सख़्ती से निबटा जा सके।

Related Articles

Stay Connected

51,400FansLike
1,391FollowersFollow
23,100SubscribersSubscribe

Latest Articles