Punjab: Tanda मे CM Channi ने PM Modi को लेकर कही ये बात….

5 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi)  पंजाब (Punjab) में परियोजनाओं का शिलान्यास करने के लिए गए थे। लेकिन रास्ते में ही कुछ लोगों ने उनको घेर लिया था। उसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वहां से वापस लौट आए। इस तरह प्रधानमंत्री का वापस लौट आना। प्रधानमंत्री की रक्षा के लिए पंजाब सरकार (Punjab Government) पर सवाल उठ रहे है। इसी बीच पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (CM Charanjit Singh Channi) का वीडियो सामने आया है। पीएम मोदी (PM Modi) को लेकर कुछ कह रहे हैं। आइए विस्तार से बताते हैं पूरी खबर।

टांडा में चरणजीत सिंह चन्नी ने दिया बयान

गुरुवार को पंजाब (Punjab) के टांडा (Tanda) में मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (CM Charanjit Singh Channi) ने एक रै ली की जिसमें उन्होंने बताया कि पूरे देश में झू ठ फैलाया जा रहा है पीएम मोदी की सुरक्षा को लेकर वह कहते हैं। पीएम मोदी की सु रक्षा में कोई ला परवाही नहीं की है। क्यों कि न तो किसी ने किसी ने पत्थर का इस्तेमाल किया और न ही किसी ने साजो सामान का इस्तेमाल किया। इसी बीच प्रधानमंत्री पर बरसते हुए चरणजीत सिंह चन्नी ने पीएम मोदी के लिए तेनु और तुसी जैसे शब्दों का भी इस्तेमाल किया।

Also Read:-सनातन धर्म की ले रहे शरण इस समुदाय के लोग….

सीएम चन्नी ने सरदार पटेल के एक बयान को साझा किया है

सीएम चन्नी सरदार पटेल (Saradar Patel) को ढाल बनाकर पीएम मोदी पर खूब बरसे और पटेल की एक फोटो साझा करते हुए। उन्होंने एक बयान लिखा की जिसे कर्तव्य से ज्यादा जा न की फिक्र हो। उसे भारत जैसे देश में बड़ी जि म्मेदारी नहीं लेनी चाहिए। लेकिन उन्होंने नाम किसी का नहीं लिया लेकिन स्पष्ट इशारा प्रधानमंत्री मोदी की ही तरफ था। लेकिन सब सुनने के बाद देश की जनता चरणजीत चन्नी को लेकर तरह-तरह की बातें कर रही है।

सुप्रीम कोर्ट ने तहकीकात को लेकर दिए सुझाव

आपको बता दें कि इस बयान से पहले भी सीएम चन्नी अपनी सरकार और पुलिस (Police) का बचाव करते हुए कह चुके हैं कि उनकी रक्षा में कोई ग लती नहीं हुई। उनकी माने तो आ खिरी समय पर पीएम मोदी का रूट बदल दिया गया था। उन्हें जाना हवाई मार्ग से था लेकिन वह सड़क मार्ग से गए। चन्नी ने कहा कि अभी के लिए राज्य सरकार द्वारा एक कमेटी गठित कर दी गई है जिसमें रिटायर हाईकोर्ट (Highcourt) के जज (judge) की अध्यक्षता में तहकीकात करवाई जा रही है। इस कमेटी में पंजाब के गृह मंत्री (Punjab Home minister) भी शामिल है। इसी को लेकर सुप्रीम कोर्ट (SC) ने सुझाव दिया है कि तहकीकात को नि ष्पक्ष बनाने के लिए राज्य सरकार और केंद्र सरकार (Central G के प्रति व्यक्ति एक साथ काम करें।