25.9 C
New York
Tuesday, July 23, 2024

Buy now

Azam Khan ने जिस DM से कहा था मेरे जूते साफ करना, उसी DM ने आजम की लगा दी लंका..

Azam Khan इन दिनों बहुत बुरे अनुभव से गुजर रहे हैं. साल 2019 में हेट स्पीच के मामले में आजम खान को 3 साल की सजा सुनाई गई है. अगर यह सजा कायम रही तो फिर आजम खान की विधायकी जानी तय है. वहीं, उम्र के इस पड़ाव पर आजम खान के लिए यह एक बड़ा झटका होगा, यह भी तय है. वैसे तो यह सजा हेट स्पीच के लिए दी गई है, लेकिन इसकी कहानी इतनी आसान भी नहीं है. इस कहानी का एक अहम किरदार है वह आईएएस(IAS) ऑफिसर, जिसकी आजम खान ने कभी जमकर लानत-मलानत की थी. यहां तक कि आजम ने उस आईएएस से अपने जूते तक साफ कराने की बात कह डाली थी. इस आईएएस का नाम है आंजनेय कुमार(Aunjaneya Kumar). फिलहाल वह मुरादाबाद के मंडलायुक्त हैं. आइए आपको बताते है इसके पीछे का पूरा सच.

Azam Khan ने DM के साथ की थी ये हरकत

Azam Khan उन दिनों 2019 लोकसभा चुनाव में व्यस्त रहते थे. उस वक़्त रामपुर में डीएम थे आंजनेय कुमार सिंह. आजम खान की तूती बोलती थी. आलम यह था कि आजम के सामने बोलने की हिम्मत अफसर नहीं जुटा पाते थे. लोकसभा चुनाव के दौरान डीएम आंजनेय जिला निर्वाचन अधिकारी की भूमिका में थे. इस दौरान आजम खान लगातार उनके ऊपर निशाना साध रहे थे. अफसरों पर हमला बोलते-बोलते आजम शब्दों की मर्यादा तक लांघ गए थे.

जूते साफ़ करने की कही थी बात

आजम खान ने इस दौरान डीएम से जूते साफ कराने तक की बात भी कह डाली थी. वहीं, डीएम आंजनेय, आजम खान के बयानों पर कानूनी शिकंजा कसते जा रहे थे. एक के बाद एक मुकदमे दर्ज होते गए. आजम खान के बयान किस कदर अपमानजनक थे, इसका अंदाजा उस एफआईआर से लगाया जा सकता है, जिस केस में उन्हें सजा सुनाई गई है. एफआईआर के मुताबिक आजम ने कहा था कि डीएम अंधा हो गया है. इन जैसे कितने डीएम ने मेरे ऑफिस में खड़े-खड़े पेशाब कर दिया है. लोकसभा चुनाव खत्म होते ही आजम के खिलाफ कई केसेज दर्ज किए गए. आईएएस आंजनेय का कहना है कि हमने पूरी तरह से निष्पक्ष चुनाव कराया था. प्रशासन के आरोप कोर्ट में सही साबित हुए.

 

Related Articles

Stay Connected

51,400FansLike
1,391FollowersFollow
23,100SubscribersSubscribe

Latest Articles