राशन पर रस्साकसी, BJP प्रवक्ता खेमचंद शर्मा ने केजरीवाल को घेरा

दिल्ली में मोदी सरकार(Modi Govt.) और दिल्ली सरकार(Delhi Govt.) में घर-घर राशन योजना की होम डिलीवरी योजना को लेकर आपस में रस्साकसी जारी है। कभी बीजेपी(BJP) पार्टी, आम आदमी पार्टी(AAP) की खिंचाई करती है तो कभी आम आदमी पार्टी(AAP) बीजेपी(BJP) की। इसी क्रम में दिल्ली से बीजेपी(BJP) पार्टी के प्रवक्ता खेमचंद शर्मा(Khemchand Sharma) ने मोदी सरकार का बचाव किया और केजरीवाल सरकार को नसीहत दे डाली। खेमचंद शर्मा एक बयान में कहते हैं की “दिल्ली में जिस तरह से वन नेशन वन राशन कार्ड को रोककर जानबूझकर रखा गया। इससे कहीं न कहीं घोटाले की बू आती है।”  उन्होंने LG से मामले में हस्तक्षेप करने की मांग की है। आइए आपको बताते हैं की पूरा मामला क्या हैं-

खेमचंद शर्मा ने कहा की केजरीवाल सरकार की नीयत साफ नहीं

दिल्ली बीजेपी(Delhi BJP) के प्रवक्ता खेमचंद शर्मा(Khemchand Sharma) द्वारा यह कहा गया कि “बिना राशन कार्ड वालों को भी खाद्यान्न वितरण में दिल्ली में घोर अनयिमितता देखने को मिली है। जिस पर तत्काल रोक लगनी चाहिये।” वे दावा करते हैं कि दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों में राशन वितरण की व्यवस्था पूरी तरह चरमरा चुकी है, जिससे केजरीवाल सरकार का कुप्रबंधन साफ़ दिखाई देता है। बीजेपी(BJP) प्रवक्ता खेमचंद शर्मा यहीं नहीं रुकते हैं वे आगे बढ़ते हुए कहते हैं कि किसी राशन दुकान पर लंबी लाइन देखने को मिलती है। जिससे बहुत सारे गरीब लोगों को राशन नहीं मिल सका। जबकि कहीं कहीं तो बहुत ही धीरे धीरे राशन वितरण का काम चलता रहा है। किसी केंद्र पर तो बेवजह राशन देने में देरी की जाती है। यह साफ दर्शाता है की केजरीवाली सरकार की नियत साफ नहीं है।

ये भी पड़े- रिलायंस ने शुरू किया सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान, 880 शहरों में लाखों लोगों को लगेगी वैक्सीन

क्या है घर घर राशन योजना

इस योजना के तहत प्रत्येक राशन कार्ड धारक को 4 किलो गेहूं का आटा, 1 किलो चावल और चीनी घर पर भेजा जायेगा। फिलहाल 4 किलो गेहूं, 1 किलो चावल और चीनी सरकारी राशन की दुकान से उचित मूल्य पर मिलता है। घर घर राशन योजना के तहत गेहूं के स्थान पर गेहूं का आटा दिया जाता और चावल को साफ करके पैकेट में पैक कर होम डिलीवरी की जायेगी।

संबित पात्रा भी दे चुके हैं बयान

संबित पात्रा ने कहा, अरविंद केजरीवाल जी के काम करने के तरीका का A,B,C,D हम आपको बताते हैं. A-A dvertisement, B-B lame, C-C redit, D-D rama केजरीवाल जी इस ड्रामे को बंद कीजिए।

केजरीवाल सरकार ने दी सफाई 

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर ‘घर-घर राशन’ योजना को रोकने का रविवार को आरोप लगाया। केजरीवाल ने एक डिजिटल पत्रकार वार्ता में आरोप लगाया कि इस योजना को लागू करने की सारी तैयारियां पूरी हो गई थीं और अगले हफ्ते से इसे लागू किया जाना था। लेकिन दो दिन पहले केंद्र सरकार ने योजना पर रोक लगा दी। उन्होंने यह भी आ रोप लगाया कि देश 75 साल से राशन माफिया के चंगुल में है और गरीबों के लिए कागज़ों पर राशन जारी होता है